BREAKING NEWS
Search
Rahul Gandhi

भाजपा की पूरी राजनीति झूठ पर आधारित: राहुल गॉंधी

416

उन्होंने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी खुलेआम लोगों को विकास के ‘मोदी मॉडल’ के नाम पर लूट रही है। उन्होंने राफेल लड़ाकू विमानों के सौदे पर प्रधानमंत्री मोदी की चुप्पी पर भी सवाल उठाया…

Shabab Khan

शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

नई दिल्ली: शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भाजपा के खिलाफ फ़ुल फ़ार्म में दिखाई दिये। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की नींव झूठ पर आधारित है। कांग्रेस की पहली कार्यकारणी समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक की अध्यक्षता के बाद राहुल ने संवाददाताओं से कहा, “चाहे आप मोदी मॉडल या प्रत्येक व्यक्ति के बैंक खाते में 15 लाख रुपये भेजने के वादों की बात करें, या नोटबंदी या गब्बर सिंह टैक्स की … सब कुछ झूठ है” राहुल ने संवाददाताओं से कहा।

बीजेपी द्वारा सबसे ज्यादा प्रचारित ‘मोदी मॉडल’ को झूठ का पुलंदा बताते हुए गांधी के वंशज ने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी खुलेआम विकास के नाम पर गुजरात के लोगों को लूट रही थी। “भाजपा की पूरी वास्तुकला झूठ है, इनका पूरा ढांचा झूठ पर बनाया गया है, गुजरात में मोदी मॉडल झूठ है। जब हमने लोगों से बात की तो उन्होंने कहा कि ऐसा कोई मॉडल नहीं है, इसके नाम पर भाजपा वहां के संसाधनों की चोरी कर रही है।”

राहुल ने एक बार फिर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे और राफेल विमान सौदे के खिलाफ वित्तीय अनियमितताओं के आरोपों पर प्रधानमंत्री मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाया।

“एक-एक करके, भाजपा का झूठ जनता के सामने आता जा रहा है, सबसे पहले: अमित शाह के बेटे, जिन्होंने 3 महीनों में 50,000 रुपये से 80 करोड़ रुपये बना लिया, प्रधानमंत्री को इसके बारे में कुछ नहीं कहना है। दूसरा: राफेल समझौते मे बदलाव किया जाता है, एक उद्योगपति को पूरा फायदा उठानें दिया जा रहा हैं। हमने प्रधानमंत्री मोदी से 3 प्रश्न पूछे, लेकिन वह एक भी जवाब नहीं दे सके।”

2 जी मामले में कोर्ट के फैसले को कांग्रेस पार्टी की ‘सत्य की जीत’ मानते हुए, राहुल ने कहा कि यूपीए-युग के समय एनडीए ने एक कथित घोटाले की परिकल्पना कर हमारे खिलाफ साजिश रची थी। उन्होंने घोषणा की, “हर कोई 2 जी के बारे में जानता है, सच्चाई आपके सामने सामने आ गई है।”

11 दिसंबर को कांग्रेस प्रमुख के रूप में निर्विरोध निर्वाचित होने के बाद राहुल ने आज अपनी पहली सीडब्ल्यूसी की बैठक की अध्यक्षता की। नई दिल्ली में हुई बैठक में उनकी मां और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भी मौजूद थीं। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, वरिष्ठ पार्टी नेताओं में मोतीलाल वोरा, गुलाम नबी आजाद, जनार्दन द्विवेदी, मल्लिकार्जुन खरगे, करण सिंह, आनंद शर्मा, मोहसिना किदवई, अंबिका सोनी, सीपी जोशी, कमल नाथ, बी के हरिप्रसाद और ऑस्कर फर्नांडीस भी उपस्थित थे।

आज बैठक के एजेंडा का आधिकारिक तौर पर खुलासा नहीं किया गया था, हालांकि राहुल गांधी ने घोषणा की कि सीडब्ल्यूसी की बैठक हर दो महीने में होगी। राहुल नें कहा कि “हर दो महीने में एक बार समिति की बैठक होनी चाहिए ताकि हम सुन सकें कि आप क्या कहना चाहते हैं और देश क्या महसूस कर रहा है।”

भाजपा के खिलाफ राहुल गॉंधी के आज के बयान पर फिलहाल उनके प्रतिद्वंदी पार्टी की कोई प्रतिक्रिया नहीं अायी है।