Nitin Gadkari

नितिन गडकरी के ‘सपने’ वाले बयान पर विपक्ष का तीखा हमला, बचाव कर रही है बीजेपी

260

प्रयागराज। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के ‘सपने दिखाने’ वाले बयान पर विवाद बढ़ गया है। गडकरी के बयान के बहाने जहां विपक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है, वहीं बीजेपी बचाव की मुद्रा में आ गई है। केंद्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने सोमवार को गडकरी के बयान का बचाव किया और कहा कि बीजेपी ने जो कहा, उसे पूरा करके दिखाया है। निरंजन ज्‍योति ने कहा कि गडकरी का बयान उन राजनीतिक दलों के लिए है जो किसानों से कर्जमाफी सहित तमाम लोक-लुभावन चुनावी वादे करके जीतने के बाद भूल जाते हैं। उन्‍होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं होता तो गरीबी हटाओ के नाम पर कांग्रेस के कुर्सी पर बैठने के खोखले वादे को जनता खारिज करके नरेंद्र मोदी को देश की सत्ता नहीं सौंपती। साध्वी ने कहा कि कांग्रेस ने आजादी के बाद पिछले 70 वर्षों में केवल वादा ही किया। काम कुछ नहीं। उधर, बीजेपी के प्रवक्‍ता जीवीएल नरसिंहा राव ने कहा कि गडकरी के बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है। उनका इशारा कांग्रेस की ओर था, जो केवल गरीबी हटाओ का नारा देती है लेकिन गरीबी हटाने के लिए कुछ भी नहीं किया। यह बयान राहुल गांधी के लिए था जो केवल खोखले वादे करते हैं।

ये है मामला?

बता दें कि गडकरी ने रविवार को मुंबई में एक कार्यक्रम के दौरान नेताओं को लेकर ऐसी टिप्पणी की, जो काफी चर्चा में है। उन्होंने कहा कि जनता को सब्जबाग दिखाने वाले नेता अच्छे लगते हैं लेकिन सपने पूरे नहीं हुए तो जनता पिटाई भी करती है। गडकरी ने यह टिप्पणी बॉलिवुड अभिनेत्री ईशा कोप्पिकर के बीजेपी में शामिल होने के लिए आयोजित कार्यक्रम में की। हंसमुख अंदाज में गडकरी ने कहा कि सपने दिखाने वाले नेता लोगों को अच्छे लगते हैं, पर दिखाए हुए सपने पूरे नहीं किए तो जनता उनकी पिटाई भी करती है। इसलिए सपने वही दिखाओ, जो पूरे हो सकें। और मैं सपने दिखाने वालों में से नहीं हूं। मुझे कोई पत्रकार नहीं पूछ सकता। मैं जो बोलता हूं, वह 100 प्रतिशत डंके की चोट पर पूरा होता है।’ गडकरी जब ये बातें कह रहे थे, कार्यक्रम स्थल ठहाकों से गूंज रहा था।

अपनी बात को स्पष्ट करते हुए गडकरी ने अपने मंत्रालय द्वारा किए गए कामों का जिक्र किया और कहा कि दिल्ली में हमने नई सड़कें बनाईं, जिसके बाद हम दिल्ली में प्रदूषण को 27 प्रतिशत कम करने में सफल हुए। मेरे डिपार्टमेंट के तहत करीब 2,000 ड्राइविंग स्कूल शुरू किए गए हैं। हम महाराष्ट्र में 5 लाख करोड़ रुपये से सड़कों का निर्माण कर रहे हैं। हम मुख्य तौर पर 4 से 6 लेन सड़कें बना रहे हैं क्योंकि चौड़ी सड़कों से ईंधन की खपत कम होती है। 

प्रधानमंत्री मोदी पर साधा निशाना

गडकरी के इस बयान के बाद विपक्ष ने पीएम मोदी पर निशाना साधना शुरू कर दिया था। एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि प्रधानमंत्री नितिन गडकरी आपको आईना दिखा रहे हैं। और वह भी बेहद तीखे अंदाज में…। कई विपक्षी नेताओं ने पीएम मोदी के वर्ष 2014 में किए गए वादों को गडकरी के बयान से जोड़कर पर उन पर हमला करना शुरू कर दिया। विपक्षी हमले के बाद बीजेपी को अब सफाई देनी पड़ी है।