Narendra modi

पाकिस्तान ने मोदी के विमान के लिए अपना एयरस्पेस नहीं दिया, भारत ने आईसीएओ में शिकायत की

99

New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विमान को पाकिस्तान द्वारा अपने एयरस्पेस के इस्तेमाल न करने के फैसले को भारत ने अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) में उठाया है। सरकारी सूत्रों के हवाले से कहा गया, “आईसीएओ द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों के मुताबिक किसी देश द्वारा दूसरे देश से ओवरफ्लाइट क्लीयरेंस की मांग की जाती है, जिसे आमतौर पर प्रदान किया जाता है। भारत इस तरह ओवरफ्लाइट क्लीयरेंस लेना जारी रखेगा। हमने नागरिक उड्डयन निकाय के समक्ष पाकिस्तान द्वारा फ्लाइट को गुजरने की अनुमति न दिए जाने का मुद्दा उठाया।”

सूत्रों के मुताबिक, “पाकिस्तान विश्वभर में स्थापित अंतरराष्ट्रीय नियमों से मुकरने के अपने फैसले पर विचार करे। साथ ही, एकतरफा कार्रवाई को गलत तरीके से पेश करने की अपनी पुरानी आदतों पर पुनर्विचार करना चाहिए। हमें पाकिस्तान सरकार द्वारा वीवीआईपी उड़ान को क्लीयरेंस न दिए जाने पर अफसोस है, जबकि यह किसी भी सामान्य देश द्वारा नियमित रूप से प्रदान किया जाता है।”

राष्ट्रपति कोविंद को भी एयरस्पेस के इस्तेमाल की अनुमति नहीं दी थी

भारत ने यह कदम पाकिस्तान के विदेश मंत्री के के उस बयान के बाद उठाया, जिसमें उन्होंने कहा था कि उसने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सऊदी अरब दौरे के लिए अपने हवाई क्षेत्र के उपयोग के अनुरोध को ठुकरा दिया था। पाकिस्तानी मीडिया ने इस खबर को प्रसारित किया था। भारत सरकार ने प्रधानमंत्री के 28 अक्टूबर को सऊदी अरब दौरे के लिए पाकिस्तानी एयरस्पेस की अनुमति मांगी थी। पाकिस्तान ने इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को भी यूरोप दौरे पर जाने के लिए अपने एयरस्पेस की इजाजत नहीं दी थी।

  • भारत ने 28 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सऊदी अरब दौरे के लिए पाकिस्तान से एयरस्पेस इस्तेमाल करने की अनुमति मांगी थी
  • आईसीएओ द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों के अनुसार अन्य देशों को ओवरफ्लाइट क्लीयरेंस प्रदान की जाती है
  • पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने प्रधानमंत्री मोदी के विमान को अपने एयरस्पेस की अनुमति न देने की पुष्टि की थी