chhat puja

चैती छठ की तैयारी, पटना प्रसाशन ने कसी कमर

172

निशांत अार्या,

पटना: लोकआस्था के महावर्प छठ को लेकर पटना जिला प्रशासन ने तैयारी तेज कर दी है. 31 मार्च से शुरू इस महापर्व चैती छठ की तैयारियों को लेकर पटना जिला प्रशासन ने सोमवार को समीक्षा बैठक की. बैठक की अध्यक्षता कर रहे पटना डीएम संजय अग्रवाल ने सभी सबंधित अधिकारियों को छठ पूजा के दौरान श्रद्धालुओं के लिए घाटों पर पर्याप्त व्यवस्था करने का आदेश दिया.


डीएम संजय अग्रवाल ने बैठक में उपस्थित सम्बंधित अधिकारियों को छठ पूजा के लिए चयनित हर घाट पर बेहतर इंतज़ाम करने का आदेश दिया है. उन्होंने कहा कि घाटों तक पहुंचने का संपर्क पथ, घाटों की मरम्मती, रौशनी और साफ़-सफाई की व्यवस्था जैसे अन्य कार्यों को प्रमुखता से तय समय पर पूरा कर लिया जाए.

इस संबंध में अनुमंडल पधाधिकरी और नगर निगम पदाधिकारी को संयुक्त रूप से प्रतिवेदन तैयार कर जमा करने को कहा गया है. प्रतिवेदन मिलने के बाद सम्बंधित एजेंसी को पूरे काम की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी.

वॉच टावर से होगी निगरानी…


चैती छठ पूजा को लेकर चयनित घाटों पर चेंजिंग रूम, अस्थायी, टॉयलेट्स, पेय जल की समूचित व्यवस्था की जायेगी. लोक स्वास्थ्य एवं अभियंत्रण विभाग और नगर निगम के अधिकारियों को इस संबंध में आदेश दे दिया गया है.

वहीं वॉच टावर पर सुरक्षा कर्मियों की तैनाती कर छठ घाटों की निगरानी की जायेगी. किसी भी तरह की कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए सुरक्षाकर्मी समेत स्थानीय पूजा समिति के सदस्य एकदम मुस्तैद नजर आएंगे. घाटों पर नियंत्रण कक्ष और पब्लिक अड्रेस सिस्टम की भी व्यवस्था रहेगी. साथ ही घाटों के किनारे गंगा नदी में पानी की गहराई के अनुसार बैरिकेडिंग भी की जाएगी.

सुरक्षित और खतरनाक घाटों की निकाली जाएगी सूची…


बैठक में डीएम ने अधिकारियों को जल्द से जल्द पटना के दीघा घाट से लेकर पटना सिटी के गंगा घाटों का निरीक्षण कर सुरक्षित और खतरनाक घाटों की सूची निकालने का आदेश दिया है. पटना जिला प्रशासन ने श्रद्धालुओं से अपील की है कि वे सुरक्षित घाटों पर ही व्रत करने जाएं. छठ पूजा के दौरान एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम को भी ड्यूटी पर तैनात किया जाएगा.

साथ ही गंगा नदी में गश्ती दल भी अपनी ड्यूटी देंगे. वहीं छठ पूजा को लेकर शहर की साफ़-सफाई की पर्याप्त व्यवस्था होगी वहीं स्पेशल ट्रैफिक रुट प्लान भी तैयार किया जायेगा.