Jabeen Shams Nizami

तीन तलाक मामले में राजद नेत्री ज़बीं-शम्स-निजा़मी ने कही बड़ी बात

390

जनमंच डेस्क। पटना। तीन तलाक मामले में बिल पास होने के बाद राजद नेत्री ज़बीं-शम्स-निजा़मी ने कही कि ये मुस्लिम महिलाओं को तबाह करने की साज़िश है, वरना मुद्दे तो और भी है जिन पर काम किया जा सकता था।

ज़बीं-शम्स-निजा़मी  ने कही कि हिंदुत्व प्रधान सरकार को सिर्फ तीन तलाक एक बड़ा जुल्म नज़र आ रहा है। सरकार चाहती है की मुस्लिम महिलाए कभी अपने घर में सुकून से ना रहे, दर दर भटके और खानाबदोश ज़िन्दगी जिये।

अगर सरकार सचमुच मुस्लिम महिलाओं की हितेषी होती तो सबसे पहले उनके रोजगार और शिक्षा पर बिल लाती तब हम समझते की वो मुस्लिम महिला हितेषी है।

मानते है की कुछ महिलाओं के साथ अत्याचार हुआ है लेकिन इसके लिए पूरे मुस्लिम समाज को दागदार करना कहाँ का न्याय है, और भी धर्मो मे तो तलाक होते है और वहाँ भी महिलाओं के ऊपर अत्याचार होता है उन महिलाओ के लिए भी कानून लाये। आज दहेज हत्या और बलात्कार दो ऐसे दानव है जो महिलाओं के वजूद को नेस्तोनाबूत करने पर तुले हैं उन पर कोई कानून क्यो नही बनता।

सरकार सिर्फ अपने व्यक्तिगत फायदे के लिए ये कानून बना रही हैं।