BREAKING NEWS
Search
MUZAFFARPUR BAD FLOOD SITUATION

मुजफ्फरपुर में जलजमाव के कारण घरों में कैद होने को लोग विवश, कई मोहल्ले टापू में तब्दील

424

Patna: रविवार को देर रात तक हुई भारी बारिश में शहर तैरने लगा। सोमवार को जब लोग जगे तो हर तरफ पानी ही पानी जमा था। शहर के अधिकतर मोहल्ले टापू बन गए। सड़कों पर डेढ़ से दो फीट पानी लग चुका था। घरों एवं दुकानों में बारिश का पानी प्रवेश कर गया। सदर अस्पताल, सरकारी बस स्टैंड, समाहरणालय समेत कई कार्यालय डूब गए। शहर के निचले इलाकों में तो बाढ़ जैसे हालात दिखे। । इसके कारण सोमवार को शहरी जन-जीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त हो गया और लोग घरों में कैद होकर रह गए। बाजार नहीं खुले और सड़कों पर आवागमन बाधित रहा।

रेलवे कॉलोनी बारिश के पानी में डूबा

शहर के मुख्य बाजार मोतीझील, जवाहर लाल रोड, क्लब रोड, मिठनपुरा, तिलक मैदान रोड, रघुवंश रोड, स्टेशन रोड, अस्पताल रोड, आमगोला रोड, अघोरिया बाजार, गरीब स्थान रोड, पक्कीसराय रोड, तीन पोखरिया रोड, बीबीगंज रोड, मालगोदाम रोड पूरी तरह पानी में डूबा हुआ है। पंकज मार्केट रोड, गोला बांध रोड, अतरदह, चर्च रोड, सूतापट्टी रोड, दीवान रोड, रज्जू साह लेन में तो दो फीट तक पानी लगा हुआ है। वहीं ब्रह्मपुरा एवं लीची बागान रेलवे कॉलोनी पूरी तरह से बारिश के पानी में डूब गया।

अस्पताल एवं कार्यालयों में भी जलजमाव

रेलवे स्टेशन प्रांगण, सरकारी बस स्टैंड, सदर अस्पताल, समाहरणालय समेत कई सरकारी दफ्तरों में भी बारिश का पानी लग गया। कचहरी, निगम कार्यालय, निबंधन कार्यालय, वाणिज्य कार्यालय भी जलजमाव का शिकार हो गए। स्टेशन एवं बस स्टैंड परिसर में जलजमाव होने से यात्रियों को भारी परेशानी हुई। सदर अस्पताल में भर्ती मरीजों, तीमारदारों एवं अस्पताल कर्मियों को भारी परेशानी हुई। सरकारी कार्यालयों में जलजमाव के कारण कर्मचारियों को कार्यालय आने में परेशानी हुई। बेला औद्योगिक क्षेत्र भी जलजमाव का शिकार हो गया है।

दिनभर पानी निकालने में लगा रहा नगर निगम

शहर को जलजमाव से निजात दिलाने के लिए नगर निगम के कर्मचारी अपर नगर आयुक्त विशाल आनंद के नेतृत्व में पूरे दिन लगे रहे। शहर के सभी निकासी प्वाइंट पर सफाईकर्मी तैनात रहे। सभी छोटे-बड़े नालों पर भी नजर रखी गई। जहां भी बहाव बाधित हुआ वहां सफाई की गई। अपर नगर आयुक्त ने बताया कि पानी निकालने को हरसंभव उपाय किए जा रहे हैं।