मोबाईल शोरूम

मोबाईल शोरूम में हुई भीषण चोरी का आदमपुर पुलिस नें हफ्ते भर के अंदर किया खुलासा

137

1 अगस्त की रात तीन बजे हनुमान फाटक स्थित कन्हैया कम्युनिकेशन का सात ताला तोड़कर हुई थी चोरी, सीसीटीवी कैमरे भी चोरों नें कर दिया था क्षतिग्रस्त…

Shabab Khan

शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

 

वाराणसी: पिछले दिनों एक अगस्त की रात में हनुमान फाटक स्थित कन्हैया कम्युनिकेशन में हुई भीषण चोरी का आदमपुर पुलिस नें एक हफ्ते के अंदर ही खुलासा कर दिया। आज एसपी सिटी कार्यालय में सीओ कोतवाली व आदमपुर इंस्पेक्टर राजीव सिंह की मौजूदगी में एक प्रेसवर्ता के दौरान मीडियाकर्मियों को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी गई।
मोबाईल शोरूम

Recovered Stolen Mobile Phones and other stuff…

चोरी के दौरान हालांकि चोरो नें दुकान का बाहरी कैमरा क्षतिग्रस्त कर दिया था तथा साथ में कैमरे की फीड को रिकार्ड करने के लिये दुकान में रखे गये डीवीआर को भी अपने साथ ले गये थे, लेकिन जॉच के दौरान आदमपुर इंस्पेक्टर को एक गली में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज से चोरो के जाने की तस्वीर मिल गई जिससे पता चला कि गैंग का सरगना छोटेलाल है जो एक शातिर अपराधी है। जानकारी मिलनें के बाद आदमपुर पुलिस नें छोटेलाल की कज्जाकपुरा निवासी महिला मित्र के घर पर दबिश दी, जहां छोटेलाल तो नही मिला लेकिन उसकी महिला मित्र मधु रावत के घर से चोरी के 5 फोन मिल गये। मधु के घर से चोरी के सोने व चांदी के कुछ छोटे आभूषण भी बरामद हुये। पुलिस नें मधु रावत को गिरफ़्तार कर लिया।

छोटेलाल का एक साथी बहेलिया टोला अन्तर्गत थाना आदमपुर निवासी बाबू उर्फ कलीमुद्दीन जो चोरी में शामिल था को भी गिरफ़्तार कर लिया गया, उसके कब्जे से पुलिस नें 9 मोबाईल फोन बरामद किया।

मधु रावत और कलीमुद्दीन के खिलाफ आईपीसी की धारा 457/380/411 के खिलाफ मुकदमा संख्या क्रमश: 148/18 व 151/18 के तहत मामला दर्ज कर जेल भेज दिया गया। गैंग के सरगना छोटेलाल की तलाश में पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

चोरी में शामिल अभियुक्तों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार सिंह, उ०नि० प्रेम नारायण सिंह प्रभारी चौकी हनुमानफाटक, उ०नि० देवी शरण यादव प्रभारी चौकी लाटभैरव, उ०नि० रामाश्रय प्रसाद, उ०नि० प्रशि० अवधेश कुमार सिंह, का०360 धनजी सिंह, का०3774 शशिकान्त दुबे, का०1766 सुनील यादव महिला का ० स्वाति तिवारी शामिल थे।