ayodhya citizens

मुहल्लों से लेकर सोशल मीडिया तक पुलिस रख रही नजर, एक्टिव है साइबर सेल

122

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को फैसला सुनाया।बिहार सरकार ने ऐहतियात में वह तमाम इंतजाम कर लिए, जो शांति-व्यवस्था के लिए जरूरी हैं। सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। लोग अपने घरों और दफ्तरों में फैसला संबंधी खबर देख रहे हैं। पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है।

संवेदनशील स्थानों पर सुबह से ही पुलिस तैनात है। स्कूल बंद नहीं हुए हैं। स्कूल के रूट पर पुलिस की गश्ती है। साइबर सेल को पूरी तरह से एक्टिव कर दिया गया है। अनावश्यक जश्न-समारोह पर पाबंदी लगा दी गई है।

शुक्रवार को चीफ सेक्रेटरी दीपक कुमार व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने सभी कमिश्नर, डीआईजी, डीएम, एसपी से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बात की, हालात जाने, निर्देश दिए। सबकुछ अलर्ट मोड पर रखा गया है। मुहल्लों से लेकर सोशल मीडिया तक पर निगहबानी है। मुख्यालय से जिलों को कहा गया कि संवेदनशील क्षेत्रों व असामाजिक तत्वों पर खास नजर रहे।

चीफ सेक्रेटरी के अनुसार, डीएम-एसपी को शांति का जवाबदेह बनाया गया है। करीब ढाई घंटे चली वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान इलाकों (प्रमंडल, जिला) में तैनात अफसरों से कहा गया कि असामाजिक तत्वों के साथ फेसबुक, ट्विटर और ह्वाट्सएप ग्रुप्स की लगातार मॉनिटरिंग की जाए। वैसे तत्वों पर विशेष निगाह रहे, जो गड़बड़ी फैलाने के मामले में संदेही रहे हों।