BREAKING NEWS
Search
Poster war RJD vs JDU

JDU-RJD में थम नहीं रहा सियासी पोस्‍टर वार, अब कहा- नीतीश-मोदी की खींचतान में टूट रहा बिहार

196

Patna: बिहार में सियासी पोस्टर वार (Political Poster War) थमने का नाम नहीं ले रहा। जनता दल यूनाइटेड (JDU) व राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) एक-दूसरे के खिलाफ एक से बढ़कर एक पोस्टर जारी कर रहे हैं। ताजा मामला आरजेडी के उस पोस्‍टर का है, जिसमें मुख्‍यमंत्री (CM) नीतीश कुमार (Nitish Kumar) व उपमुख्‍यमंत्री (Dy.CM) सुशील मोदी (Sushil Modi) की खींचतान में बिहार को टूटता दिखाया गया है।

जेडीयू-आरजेडी में लगातार जारी है पोस्‍टर वार

विदित हो कि इसके पहले गुरुवार को आरजेडी ने पोस्टर जारी कर बिहार सरकार को ट्रबल इंजन (Trouble Engine) की सरकार बताते हुए नीतीश कुमार को लूट एक्सप्रेस (Loot Express) तो सुशील मोदी को झूठ एक्सप्रेस (Jhooth Express) दिखाया गया। इसके जवाब में जेडीयू ने भी अपने पोस्‍टर में आरजेडी को करप्शन मेल (Corruption Mail) बताया। आरजेडी ने फिर नया पोस्‍टर जारी कर इस जंग को आगे बढ़ाया है। अब इसके जवाब में जेडीयू के पोस्‍टर का इंतजार है।

पोस्‍टर में बताया- खींचतान में टूट रहा बिहार

आरजेडी ने अपने ताजा पोस्‍टर में बिहार को टूटता हुआ दिखाया है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी की खींचतान में यह टूट रहा है। पोस्‍टर में कोने में बैठी जनता इसे देखकर हैरान-परेशान है। पोस्‍टर में ‘पाखंडी है सरकार, पिछड़ रहा बिहार’ स्‍लग देकर बिहार सरकार पर हमला किया गया है। आरजेडी ने इस पोस्‍टर को ट्वीट भी किया है।

पाखंडी है सरकार, पिछड़ रहा बिहार

लूट खसोट और धोखेबाज़ी करती अत्याचार

‘ट्रबल इंजन’ बनाम ‘करप्‍शन मेल’

इसके पहले गुरुवार को पटना में आरजेडी ने पोस्टर लगाकर बीजेपी व जेडीयू गठबंधन पर तंज कसा। इसे बिहार को बर्बाद करने वाला ट्रबल इंजन बताया। अपने पोस्टर में आरजेडी ने दो ट्रेन दिखाते हुए एक तरफ नीतीश कुमार को लूट एक्सप्रेस तो दूसरी ओर उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी को झूठ एक्सप्रेस करार दिया।

जवाब में जेडीयू की तरफ से जारी पोस्टर में लालू प्रसाद यादव को रेल मंत्री के रूप में दिखाया गया तथा बिहार में उनके 15 साल के शासन पर भी तंज कसा गया। पोस्टर में ट्रेन के आगे लालू प्रसाद यादव अपराध गाथा लिखे एक किताब को लेकर खड़े दिखाए गए। ट्रेन को करप्शन मेल दिखाते हुए इसका मार्ग डेस्टिनेशन पटना-टू होटवार (रांची का जेल) बताया गया। साथ ही करप्शन मेल जिस प्लेटफॉर्म पर खड़ी दिखाई गई, उसपर लालू के बेटे तेजस्वी यादव को खटिया पर बैठा दिखाया गया। ट्रेन की बोगियों पर लालू के शासन काल में हुए घोटालों और अपराधों को चित्र के माध्यम से दिखाया गया।

पोस्टर वार से शुरू हुआ चुनावी साल

बहरहाल, बिहार में इस चुनावी साल की शुरुआत आरजेडी व जेडीयू के पोस्टर वार से हुई है। दोनों दल एक-दूयरे के खिलाफ लगातार पोस्टर जारी कर हमलावर हैं। विधानसभा चुनाव के नजदीक आने के साथ इस पोस्‍टर वार के और तेज होने की संभावना है।