Health community center

चिलचिलाती धूप में मरीज बेहाल, डॉक्टर मालामाल

209

समीर ख़ान/रिज़वान उद्दीन की रिपोर्ट-

हमीरपुर- जिले के कस्बा मौदहा में स्थित स्वास्थ्य समुदाय केंद्र में चिलचिलाती धूप में दूरदराज के गांव से आने वाले मरीजों को इधर उधर भटकना पड़ता हैं. जबकि, स्वास्थ्य समुदाय केंद्र के डॉक्टर महोदय अपने अपने सरकारी आवासों में लगे एसी में आराम फरमा रहे होते हैं और बेचारे मरीज इधर उधर भटकते रहते हैं और जब वह किसी स्टाफ से पूछते हैं, तो उनको जवाब दिया जाता है कि साहब अभी मीटिंग में है. जबकि, हकीकत में साहब आराम फरमा रहे होते हैं.

सरकार के आदेश के अनुसार कोई भी डॉक्टर किसी भी मरीज को किसी प्रकार की कोई भी दवा स्वास्थ्य सामुदायिक केंद्र के बाहर की नहीं लिखी सकते. इसके बावजूद आलम कुछ उल्टा ही नजर आता है. अपनी जेबे भरने के लिए डॉक्टर महोदय गरीब बेबस और अपने दुखों से परेशान मरीजों को बाहर की दवाई लिखते हैं.

स्वास्थ्य समुदाय केंद्र में मरीजों के लिए लगाई गई ठंडे पानी की मशीन सिर्फ शोपीस बन कर रह गई है. आलम यह है कि ठंडे पानी के लिए मरीजों को इधर उधर से 2 रुपये वाले पानी के पाउच खरीद कर अपनी प्यास बुझा रहे हैं. नगर पालिका परिषद मौदहा के द्वारा लाखो रुपए की लागत से ठंडे पानी के फ्रिज लगाने का कार्य पूर्व नगर पालिका चेयरमैन शकुंतला गोस्वामी के कार्यकाल में किया गया था.

उनके कार्यकाल तक सभी पानी के फ्रीजर सही कार्य कर रहे थे. अब मौजूदा नगर पालिका चेयरमैन रामकिशोर मामा को आये लगभग 2 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं कई कार्यो के टेंडर भी हो चुके हैं. जैसे सड़क सफाई कूड़ेदान आदि और इन्हीं टेंडरों के पैसो की बंदरबांट कर लिया गया है.

लेकिन, इतनी भीषण गर्मी होने के बावजूद जब पारा 48 तक पहुंच चुका है. पानी की व्यवस्था जब से चेयरमैन रामकिशोर मामा बने तब से आज तक दुरुस्त नहीं हो पाई है. लेकिन अधिशासी अधिकारी एवं नगर पालिका अध्यक्ष अब तक मौन धारण किए हुये हैं. जनता 2 रुपये वाले पानी के पाउच पीने को मजबूर है.

क्या खुद को जनता का महीसा कहने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मरीजों की उक्त तकलीफों की ओर ध्यान देगें…