punjab education minister

अब बच्चों को स्कूलों में वर्दी देने के वजाए वर्दी खरीदने के लिए पैसें देगी राज्य सरकार

169
Navdeep Kapoor

नवदीप कपूर

अमृतसर। शिक्षा मंत्री ओ. पी. सोनी ने ऐलान किया कि अगले वर्षं से सरकारी स्कूलों में पढ़ते बच्चों को स्कूल की वर्दी देनें के वजाए अब वर्दी  खरीदने के लिए पैसे ही दिए जाएंगे, जो अब उनके बैंक खातों में दे दी जाएगी। उन्होंने कहा कि ऐसा इस लिए किया जा रहा जिससे बच्चों के माता-पिता अपनी पसंद के कपड़े खुद खरीद सकें।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा स्कूलों में चल रही मिड डे मील में आ रही शिकायतों को देखते हुए इसमें ठेकेदारी प्रणाली बंद की जायेगी और कोशिश की जायेगी कि यह पैसे भी बच्चों के मां-बाप को बैंकों के ज़रिये दिए जाए, जिससे खाने की शिकायत ही बंद हो जाए। श्री सोनी ने यह ऐलान सीएम कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा घर -घर रोजग़ार देने के लिए शुरू की गई मुहिम के अंतर्गत शिक्षा विभाग पंजाब द्वारा मास्टर काडर अधीन भर्ती किये गए 2022 उम्मीदवारों को नौकरी पेशकश पत्र देने के लिए अमृतसर में करवाए गए समागम को संबोधन करते हुए किया। श्री सोनी ने अध्यापकों को संबोधित करते हुए कहा कि अगले शैक्षिक सत्र से स्कूलों में मिलने वाली किताबों में देरी नहीं होगी और किताबें सैशन शुरू होने से पहले मिलेंगी।

वर्णनीय है कि 3582 मास्टर काडर पदों के लिए दिसंबर 2017 में गुरू नानक देव यूनिवर्सिटी ने परीक्षा ली थी। इसमें से 2022  को आज उम्मीदवारों नियुक्ति पेशकश पत्र दिए गए हैं। जबकि बाकी खाली रह गई पोस्टें रिज़र्व श्रेणी में होने के कारण उमीदवार नहीं मिल सके, जिनको डी -रिज़र्व करवाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। आज भर्ती किये अध्यापकों में सामाजिक शिक्षा के 252, हिसाब के 504, विज्ञान के 977 और पंजाबी के 289 उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र जारी किये गए।