BREAKING NEWS
Search
Wine shop, jan manch

महिलाएं कम नहीं है इस बार शराब ठेका लेने में

856

धर्मवीर शर्मा की रिपोर्ट,

पंजाब। राज्य में इस बार शराब के ठेके लेने के लिए बड़े घरों की बहू-बेटियां भी मैदान में हैं। शराब के करीब 4200 ठेके लेने के लिए महिलाओं ने इच्छा प्रकट की है।

कोई ऐसा जिला नहीं बचा जहां महिलाओं ठेके लेने के मुकाबले में न हों। आबकारी विभाग ने साल 2018 -19 के लिए शराब के ठेके लेने के चाहवानों से 20 से 23 मार्च तक आवेदनपत्र मांगें थे। करीब 38 हजार व्यक्तियों ने ठेके लेने में रूचि दिखाई है। बड़ी बात यह है कि बड़े घरों की महिलाएं शराब के ठेके लेने के लिए ज्यादातर स्थानों पर मैदान में उतरी हैं।

जानकारी अनुसार दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के पूर्व प्रधान और शिरोमणि अकाली दल (दिल्ली) के नेता हरविन्दर सिंह सरना की लड़की जसदीप कौर चड्ढा ने शराब के ठेके लेने के लिए कई जिलों में आवेदनपत्र डाला है। हालांकि चड्ढा परिवार के शराब कारोबार से कोई अनजान नहीं है परंतु इस बार जसदीप कौर चड्ढा ने खुद शराब के ठेके लेने के लिए पहलकदमी की है।

जानकारी अनुसार जसदीप कौर चड्ढा ने सूबो में करीब 636 आवेदन ठेके लेने के लिए डाले हैं। उन्होंने दो प्राईवेट बैंकों के द्वारा ठेके के लिए अप्लाई किया है। एक शराब कारोबारी ने अपने परिवार की दो महिलाओं को फिर मैदान में उतारा है। सूबे में से उषा सिंगला इस बार चढ़ाई पर हैं जिन्होंने ठेके लेने के लिए सबसे ज्यादा 1054 आवेदन डाले हैं जबकि दूसरे नंबर पर जसदीप कौर चड्ढा का नाम आता है। तीसरा नंबर फरीदकोट से पूर्व अकाली विधायक दीप मल्होत्रा की पत्नी डिम्पी मल्होत्रा का है। विवरनों अनुसार डिम्पी मल्होत्रा ने ठेके लेने के लिए 632 आवेदन डाले हैं। चौथा नंबर दिव्या सिंगला का है जिसने 611 आवेदनपत्र दिए हैं।

आबकारी विभाग की तरफ से 26 मार्च को दोपहर एक बजे सभी जिलों में लाटरी व्यवस्था के द्वारा ठेके की अलाटमैंट की जाएगी। दो प्राईवेट बैंकों के द्वारा 26,279 आवेदनपत्र महकमे को प्राप्त हुई हैं जबकि बाकी आवेदनपत्र दस्ती मिले हैं। जालंधर में अर्पना गुप्ता ने 97, हरजिन्दर कौर ने अमृतसर में 31, बठिंडा में अनीता ने 20 आवेदनपत्र जबकि रिया गर्ग ने 20 आवेदन डाले हैं। इसी तरह कांता देवी, रवनीत कौर, बलविन्दर कौर, ज्योति, कुसुम, परमिन्दरजीत कौर गिल, जशनदीप कौर, अमनदीप कौर गिल, मनप्रीत कौर, प्रतिभा गुप्ता, प्रेरणा सिंगला, कमला देवी आदि भी ठेके लेने की इच्छुक महिलाओं की कतार में हैं।