BREAKING NEWS
Search
keral flood

बाढ़ की तबाही में भी चल रहा हैं जातिवाद का खेल, 20 लोगों के खिलाफ SC/ST एक्ट में मुकदमा दर्ज

271

केरल। बीते दिनों केरल में आई बाढ़ से पूरे जिले में मानो तो एक तबाही सा मचा दिया हैं। बाढ़ के कारण केरल में कई लोग बेघर हो चुके हैं। सरकार द्वारा आये दिन राहत पहुँचाने का कार्य किया जा रहा हैं। देश के कई राज्यों से लोगों के लिए मदद भी की जा रही हैं। लोगों को बचाने के लिए प्रशासन पूरी कोशिश में भी लगी हुई हैं।

ऐसे में एक बड़ी चौकाने वाली खबर सामने आई हैं। बाढ़ के बीच 25 जुलाई को अलापुझा जिले के हरिपद में 20 लोगों के खिलाफ SC/ST एक्ट के तहत मुक़दमा दर्ज करना पड़ा हैं। दरअसल, उन्होंने दलितों का खाना खाने से इनकार कर दिया और खुद ही खाना बनाया। जिसको लेकर सवर्णों के लिए राहत कैंप में दूसरा चूल्हा जलाना पड़ा।

वहीं दुसरी घटना केरल की कोल्लम जिले की हैं, जहां कुछ लोगों ने नांव पर चढ़ने से मना कर दिया। क्यूंकि नांव उसका नाविक एक क्रिश्चियन था। इस मामले को  लेकर मछुआरे मैरिअन जॉर्ज ने बताया कि 7 अगस्त को जब वह कोल्लम जिले के एक परिवार जिसमें 17 लोग थे, जब उनको लेने बाढ़ से निकाल सुरक्षित स्थान पर ले जाने पहुंचा तो उनका पहला सवाल था, ‘यह एक क्रिश्चियन बोट नहीं है न?’ जॉर्ज ने कहा, हां यह एक क्रिश्चियन की बोट है और मैं क्रिश्चियन हूं।’