BREAKING NEWS
Search
indian farmer

सम्पूर्ण कर्जा माफी और फसलों का लागत का डेढ़ गुना भाव देने का विधेयक पारित

453

सुरेन्द्र कुमार जोशी की रिपोर्ट,

राजस्थान (चुरु)। तारानगर अखिल भारतीय किसान सभा समन्वय समिति के राष्ट्रीय आह्वान पर आज 26 नवम्बर को बुचावास गांव में किसान मुक्ति संसद का आयोजन मदन लाल स्वामी की अध्यक्षता में आयोजित हुई। जिसमें किसानों के सभी ऋण सम्पूर्ण माफ़ और फसलों का लागत का डेढ़ गुना भाव देने का विधेयक पारित किया।

इस अवसर पर गांव की पेयजल आपूर्ति दुरस्त करने, आबादी भूमि बढ़ाने, गरीब योग्य लोगों को बी पी एल में शामिल करने, बरसाती पानी निकासी की समुचित व्यवस्था करने आदि का प्रस्ताव पारित किया।

किसान सभा के प्रतिनिधि मंडल व ग्रामीणों से वार्ता के लिए तहसीलदार दिनेस शर्मा मय जाब्ता पहुंचे जिन्होंने वार्ता कर स्थानीय मुद्दों पर सहमति व्यक्त की तब मोके पर प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा किसान मुक्ति संसद को सम्बोधित करते हुए प्रदेश महामंत्री छगनलाल चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार किसानों का सम्पूर्ण कर्जा माफी और फसलों की लागत का डेढ़ गुना भाव विधेयक संसद में पारित नहीं करती है तो देश का किसान गांव गांव में आंदोलन छेड़ेगा।

किसान सभा के प्रदेश कमेटी सदस्य निर्मल कुमार ने कहा कि कर्ज से दुबे किसान का फसल बीमा क्लेम भी बीमा कंपनियां नही दे रही है। सरकार और बीमा कंपनियां आपस मे मिलीभगत कर किसान को लूट रही है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

सभा को जिला मंत्री उमरावसिंह, चिमनाराम पांडर, ताराचंद कस्वां, रामजीलाल कुलड़िया, भोजराज महला, बलराम मोगाआदि ने संबोधित किया इस अवसर पर दाताराम भाकर, केवलराम मेघवाल, हरलाल गोदारा, सार्दुलराम पुरोहित, बेगराज प्रजापत, गोविंदराम पारीक, बजरंग लाल जोशी, मोहरसिंह स्वामी मामराज सहारण सहित सैंकड़ों महिला, पुरुष किसान सामिल हुए।