Janmanchnews.com

दूषित पानी पीने से सरपंच बहू, सास व ननद की मौत, पुलिस ने किया मर्ग कायम, पानी की होगी जांच

146
Ashok Parmar

अशोक परमार

रतलाम। रावटी थाने के ग्राम सेलेज मईड़ा की सरपंच ओर उसकी सास की दूषित पानी से मौत का मामला सामने आया है। वहीं पानी पीने से सरपंच की ननद की भी तबीयत खराब हो गई जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई। उक्त पानी की जांच की जाएगी। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। घटना ग्राम सेलेज मईडा की है।

यहां की सरपंच माया पति प्रभुलाल भूरिया की सास देवली पति मंजी उम्र 65 वर्ष कल हेडपंप से पानी भरकर लाई थी। उसी पानी को पूरे गांव के भी पीते है, लेकिन मटकी मे रखा पानी अज्ञात कारणों के चलते संभवत: दूषित हो गया और उसका पानी पीने से देवलीबाई की कल तबीयत खराब हो गई जिसे कल रावटी से जिला अस्पताल लाए जहां पर चिकित्सक ने उन्हे मृत घोषित कर दिया।

देवली के शव को परिजन गांव लेकर गए और वहां पर सरपंच माया भूरिया ने अपनी ननद सीमा पिता लाहली से पानी मंगाकर पीया तो माया की भी तबीयत खराब हो गई ओर वहीं पानी सीमा द्वारा पीया गया तो उसकी भी तबीयत खराब हो गई। परिजन दोनो को लेकर रात में  जिला अस्पताल पहुंचे। जहां पर सोमवार की सुबह माया ने दम तोड दिया। 

वहीं सीमा की तबीयत नाजूक बनी हुई थी और उसकी भी मौत हो गई अचानक तबीयत बिगडने पर परिजनों ने जिस मटके से पानी पीया उसका परीक्षण कर उसमें रखा पानी बोतल में लिया तो वह पीला दिखाई दिया। इससे यह आशंका जताई जा रही है कि मटकी में रखा पानी अज्ञात कारणों के चलते दूषित हो गया और उसी के पीने से सरपंच बहू ओर सास की मौत हो गई।

फिलहाल मामला जांच में है कि पानी किस प्रकार दूषित हुआ। पुलिस ने सास ओर बहू का पीएम कराया है। माया के पति प्रभुलाल सालवापाड़ा के प्राथमिक स्कूल में शिक्षक है उन्होने बताया कि मटकी में रखा पानी पीने से उसकी मा ओर पत्नी की तबीयत बिगडी थी।