BREAKING NEWS
Search
Nitish Kumar

आरक्षण खत्म करना आसान नहीं: नीतीश कुमार

357
Rajnish

रजनीश

गोपालगंज- सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोनहुला हाई स्कूल के खेल मैदान में एनडीए के जदयू उम्मीदवार डॉ. आलोक कुमार सुमन के पक्ष में आयोजित एक चुनावी जन सभा को संबोधित करते हुए कहा कि दुनिया की कोई भी शक्ति आरक्षण को खत्म नहीं कर सकता है.

उन्होंने कहा कि कुछ लोग समाज को बांटने का काम कर रहे हैं. लेकिन, मैं 13 वर्षों से सेवा कर रहा हूं. विभिन्न यात्राओं में समाज के बीच जाते हैं. लोगों की समस्याओं को सुनते हैं और उस पर अमल करते हैं. बिना लालू-राबड़ी के नाम लिए उन्होंने हुए कहा कि पति-पत्नी की सरकार में बिहार के लोग बाहर में शर्म से बिहार का निवासी होने की बात नहीं करते थे. आज शान से कर रहे हैं कि वे बिहारी हैं. कोर्ट के आदेश पर जेल हुआ तो उनको फंसाने का आरोप लगाया जा रहा है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे काम के आधार पर वोट मांगने आए हैं. 15 वर्षों तक मदरसा के शिक्षकों के साथ क्या हुआ किसी से छिपा हुआ नहीं है. आज अन्य शिक्षकों की तरह उन्हें भी वेतन दिया जा रहा है. गरीबों की गाढ़ी कमाई शराब में चली जाती थी, शराब बंद होते ही समाज में सुधार आने लगा है.

उन्होंने कहा कि बिहार के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए केंद्र से भरपूर सहयोग मिल रहा है. बिहार में महिलाओं को पचास फीसदी आरक्षण दिया गया. उन्होंने आगे कहा कि बिना कमाए माल बनाना पाप है. कहा कि बिहार की राजधानी दूर दराज से पहुंचने के लिए सड़क का निर्माण कराया जा रहा है. अब बिहार के लोग 5 घंटे में राजधानी पहुंचेगा.

केंद्र सरकार ने सड़क पुल निर्माण के लिए पचास हजार करोड़ रुपए की मंजूरी दी है. उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है 2020 तक किसानों को खेती करने के लिए बिजली के कनेक्शन उपलब्ध कराने की है.

इस मौके पर स्थानीय विधायक अमरेंद्र कुमार पांडे उर्फ पप्पू पांडे, जिला परिषद अध्यक्ष मुकेश कुमार पांडे, हथुआ विधायक रामसेवक सिंह, परिवहन मंत्री संतोष निराला, एमएलसी आदित्य नारायण पांडे, लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव काली प्रसाद पांडेय, मुखिया संघ के अध्यक्ष अर्जुन सिंह, धर्मेंद्र मिश्रा,अरविंद पटेल चंद्र मोहन पाण्डेय, मार्कंडेय राय शर्मा, रवि प्रकाश मणि त्रिपाठी ,अखिलेश्वर सिंह, ब्रह्मानंद राय, उमेश प्रधान आदि भी उपस्थित थे.