BREAKING NEWS
Search
Nitish kumar and rahul gandhi

बिहार में RJD खुश, कांग्रेस ने नीतीश को दिया ये प्रस्ताव

814

Patna: झारखंड विधानसभा चुनाव की हो रही मतगणना के रुझानों में महागठबंधन की बढ़त से जहां प्रदेश की पार्टियां खुश हैं तो वहीं बिहार में भी महागठबंन की पार्टियों में खासा उत्साह देखा जा रहा है। राजद ने तो अब अगले साल बिहार में होने वाले विधानसभा चुनावों में भी जीत का दावा किया है तो वहीं कांग्रेस ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को महागठबंधन ज्वाइन करने का अॉफर दिया है।

राजद खेमे में खुशी, कहा-बिहार में भी यही होनेवाला है

राजद के राज्‍यसभा सदस्‍य मनोज झा ने कहा कि उनकी पार्टी बिहार में भी बड़ी जीत दर्ज करेगी। उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार अब अपनी साख खो चुके हैं।

राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा है कि झारखंड चुनाव में महागठबंधन की जीत का फायदा बिहार को भी मिलेगा। झारखंड की तरह ही बिहार में भी एनडीए सत्ता से बेदखल होगी और बिहार में अगली सरकार महागठबंधन की होगी। उन्होंने कहा कि अगर झारखंड में महागठबंधन की सरकार बनती है तो राजद भी सरकार में शामिल होगी।

कांग्रेस मुख्यालय में मन रहा जश्न, सीएम नीतीश को दिया ये अॉफर

झारखंड विधानसभा चुनाव के नतीजों के रुझानों से कांग्रेस खेमे में भी खुशी की लहर व्याप्त है। पार्टी के मुख्यालय सदाकत आश्रम में कार्यकर्ता जश्न मना रहे हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह ने इशारों-इशारों में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एनडीए छोड़कर महागठबंधन में शामिल होने का न्योता दिया है।

सदानंद सिंह ने कहा है कि पूरे देश में बीजेपी के खिलाफ वातावरण बनने लगा है। ऐसे में जरूरत है कि वर्ष 2020 में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ पूरा विपक्ष एकजुट हो।

नीतीश कुमार की तरफ इशारा करते हुए सदानंद सिंह ने कहा कि सभी को एकजुट होना होगा नहीं तो सबके अस्त्तिव पर खतरा है। उन्होंने कहा कि झारखंड के नतीजों ने बीजेपी के अहंकार को समाप्त कर दिया है। इसका सीधा असर देश की राजनीति के साथ झारखंड के पड़ोसी राज्य बिहार पर भी पड़ेगा। इस नतीजे से हम ही नहीं, पूरे देश की जनता खुश है।

बता दें कि झारखंड में सभी 81 सीटों के रुझान सामने आ चुके हैं। इसमें झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM), कांग्रेस और राजद की गठजोड़ वाला महागठबंधन जादुई आंकड़े तक पहुंचता दिख रहा है तो वहीं, बीजेपी पिछड़ती दिख रही है।