LJD

शरद यादव की गद्दारी के खिलाफ सामूहिक इस्तीफा

394

पटना- बीते दिनों महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर घोषणा हुई. जिसमें बिहार की 40 सीटों में से राजद और शरद यादव 20, कांग्रेस 9, रालोसपा 5, ‘हम’ 3, VIP 3 सीटें और राजद कोटे से 1 सीट भाकपा को देने को लेकर फैसला हुआ.

वहीं शरद यादव के चुनाव लड़ने को लेकर एक बड़ा ऐलान हुआ. जिसमें यह कहा गया कि वो राजद के चिन्ह पर चुनाव लड़ेंगे। चुनाव के बाद लोजद का राजद में विलय हो जाएगा।

इसी कड़ी में शरद यादव के इस फैसले से उनके पार्टी लोकतांत्रिक जनता दल के लोग उनसे बेहद नाराज हो गये है. जिसके बाद उनके पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को पार्टी से इस्तीफा देने का फैसला लिया.

Letter

Janmanchnews.com

आपको बताते चले कि पार्टी के नेताओं का कहना है कि शरद यादव ने जानबूझकर राजद के टिकट से चुनाव लड़ने का फैसला लिया है. उन्होंने आगे यह भी आरोप लगाया कि यह शरद यादव का तानाशाही रवैया है, जो पार्टी को खत्म करना चाहते है.

वहीं इस्तीफा देने वाले नेताओं में बिन्देश्वरी सिंह, प्रदेश महासचिव संजय रघुवर, चन्द्रशेखर यादव, विवेक कुमार शर्मा, दिनेश भगत, दशरत पासवान, पुनपुन सिंह, देवकांत राय, विन्देश्वरी शर्मा, सुरेश मेहता, फिरोज आलम, रामनंदन सिंह, कृष्णा सिंह समेत कई नेताओं का नाम शामिल है.