BREAKING NEWS
Search
sanjay jaiswal

लगातार गरमा रही है बिहार की सियासत, BJP के प्रदेश अध्यक्ष ने अपनी ही सरकार के फैसले पर उठाया सवाल

188
Share this news...

पटना।बिहार की एनडीए सरकारमें शामिल सबसे बड़ा दल भाजपा ही कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सरकार के फैसले से सहमत नहीं है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) ने भाजपा कोटे के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय के साथ रविवार की शाम प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करते हुए नाइट कर्फ्यू और अन्‍य उपायों का एलान किया था। इसके थोड़ी ही देर बाद भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष संजय जायसवाल  ने सरकार के फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्‍होंने कहा कि रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा देने से संक्रमण कैसे थम जाएगा?

दिल्‍ली की तर्ज पर वीकेंड कर्फ्यू चाहते हैं संजय जायसवाल

संजय जायसवाल ने फेसबुक पोस्‍ट लिखकर सरकार के फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्‍होंने लिखा है कि वे कोई विशेषज्ञ नहीं हैं, लेकिन यह समझना मुश्‍क‍िल हो रहा है कि केवल रात को कर्फ्यू लगा देने से संक्रमण थम जाएगा। उन्‍होंने कहा है कि वायरस का प्रसार वाकई रोकना है तो वीकेंड कर्फ्यू जैसी योजना बनानी ही होगी।

शुक्रवार की शाम से सोमवार की सुबह तक कर्फ्यू का सुझाव

संजय जायसवाल ने सरकार को शुक्रवार की शाम से सोमवार की सुबह तक के लिए कर्फ्यू लगाने का सुझाव दिया है। उन्‍होंने कहा है कि लगातार 62 घंटे लोग घरों में बंद रहेंगे तो नए संक्रमितों को दूसरे के संपर्क में आने से पहले उनकी बीमारी का पता चल सकेगा। इससे उन्‍हें अलग करना और कोरोना की चेन तोड़ना संभव हो सकेगा।

महाराष्‍ट्र और छत्‍तीसगढ़ जैसे हालात को लेकर चेताया

उन्‍होंने कहा कि सबसे बेहतर तो यह रहता कि चार दिन रोजगार और तीन दिन बंदी के फैसले पर अमल किया जाता। हालांकि बिहार में अभी इसकी जरूरत नहीं है, लेकिन अगर हम दो दिन भी कड़ाई से कर्फ्यू नहीं लगा पाए तो बिहार की हालत भी महाराष्‍ट्र और छत्‍तीसगढ़ जैसी हो सकती है।

सरकार के फैसले से खुश है मांझी की पार्टी

बिहार सरकार के फैसले से जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा खुश है। उनकी पार्टी ने लॉकडाउन लगाने का विरोध किया था। हालांकि राजद और कांग्रेस जैसी पार्टियां सरकार के फैसले से सहमत नहीं हैं।

Share this news...