BREAKING NEWS
Search
jharkhand under section 144

झारखंड में धारा 144 लागू, जानिए क्या है गाइडलाइन्स

96
Share this news...

झारखंड सरकार ने आखिरकार कड़ी पाबंदियां लागू कर दीं। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण पर नियंत्रण के लिए मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने यह फैसला लिया। अब 30 अप्रैल तक पूरे राज्‍य में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। इसके साथ ही राज्‍यभर में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक बाजार-दुकान बंद रहेंगी। तमाम व्‍यावसायिक गतिविधियों पर रोक के साथ ही आम जनों को भी घरों से नहीं निकलने की सख्‍त ताकीद की गई है।

झारखंड में बढ़ते कोविड -19 के मामलों पर रोक लगाने के लिए मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन की सरकार ने 30 अप्रैल तक राज्य में धारा 144 लागू कर दी है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंगलवार को हाई लेवल मीटिंग के बाद नया एसओपी जारी किया है। सीएम ने अपने ट्वीट में लिखा- कोविड -19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर, ये आदेश जारी किए गए हैं। सभी से आदेशों का सख्ती से पालन करने की अपील की गई है। झारखंड के निवासियों ने पहले कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। पूरी तरह से विश्वास है कि हम एक बार फिर कोरोनो वायरस को हरा देंगे।

झारखंड सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

  • 30 अप्रैल तक राज्य में धारा 144 लागू
  • स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे
  • सार्वजनिक स्थान पर पांच से अधिक लोगों को साथ आने की अनुमति नहीं दी जाएगी
  • सभी दुकानों और संस्थानों को रात 8 बजे के बाद बंद करना होगा
  • जिम्नेजियम और क्लब बंद रहेंगे
  • पार्क और स्विमिंग पूल बंद रहेंगे
  • विवाह को छोड़कर सभी सामाजिक कार्य निषिद्ध हैं। शादी समारोह में केवल 200 लोग शामिल होंगे
  • केवल 50 लोग ही अंतिम संस्कार में शामिल हो सकते हैं
  • रेस्तरां और भोजनालयों अपनी क्षमता के 50% पर काम करेंगे
  • रेस्टोरेंट और बार को रात 8 बजे के बाद बंद करना होगा
  • धार्मिक स्थान पर क्षमता के 50% श्रद्धालु बुलाए जाएंगेझारखंड के सभी 24 जिलों, समेत तमाम शहरों, कस्‍बा, बाजारों में शासन-प्रशासन की ओर से धारा-144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। इन शहरों में रांची, धनबाद, जमशेदपुर, बोकारो, गढ़वा, गिरिडीह, गोड्डा, कोडरमा, रामगढ़, पलामू, चतरा, दुमका, खूंटी, जामताड़ा, साहिबगंज, हजारीबाग और चाईबासा आदि शामिल हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते यह फैसला किया गया है।
Share this news...