Rohit shetty

गोलमाल सीरीज आज भी टीवी पर आती रहती है तो लगता है की कल की बात है: रोहित शेट्टी

384

बॉलीवुड के मशहूर फिल्म डायरेक्टर रोहित शेट्टी इस दिवाली दर्शकोंं को एक बंपर गिफ्ट देने जा रहे हैं। उनकी फिल्म गोलमाल-4 दीपावली के शुभ अवसर पर रिलीज हो रही है। गोलमाल सीरीज से दर्शकों के दिलों पर राज करने वाले रोहित शेट्टी से खास बातचीत…

ऑडिएंस का ख्याल रखते हैं?

मेरी जो ऑडियंस है वो फॅमिली ऑडियंस है। मेरी फिल्म को गफमिल्य एंटरटेनर कहा जाता है। मैं उसी तरह की फिल्में हमेशा बनाता हूँ। आजकल 500 से ज्यादा की टिकट है। अगर कोई दर्शक मुझे उतना पैसा दे रहा है तो मेर दायित्व है की मैं उस परिवार को मनोरंजन दे सकूं।


सिंघम और गोलमाल जैसी फिल्में कैसे बना लेते हैं?

दोनों मनोरंजन का हिंसा ही हैं। एक वीर रस और दूसरा हास्य रस है। दोनों रसों को मनोरंजन में तब्दील करने का काम मैं करने की कोशिश करता हूँ। पहली गोलमाल के दौरान पूरे परिवार ने फिल्म को सराहा था। अब मेरी कोशिश रहती है की मैं पूरे परिवार के लिए ही फिल्म बनाऊं। फिल्म का साफ़ सुथरा होना जरूरी है।

वीडियो देखें…

डराने वाले हैं?

हमने काफी सोचा और उसके बाद गोलमाल में हमने भूत वाला कांसेप्ट लाया। हॉरर कॉमेडी बनाने की कोशिश की।

कॉमेडी में एक्शन?

अगर फिल्म में अजय देवगन हो तो फैंस उन्हें एक्शन करते हुए भी देखना चाहते हैं, तो उनके लिए एक्शन भी रखना पड़ता है।


तब्बू के बारे में बताएं?

मैं तब्बू मैम के साथ एक अरसे से काम करना चाहता था। पहली बार ऐसा मौका मिला और हमने बड़ी शिद्दत से काम किया है। फिल्म में बहुत ही अहम् किरदार में हैं।

किस तरह की फिल्में कभी नहीं बनाएंगे?

मैं सेक्स कॉमेडी नहीं बना पाऊंगा, क्योंकि उस तरह की फिल्में मैं नहीं बना पाता।

सेट पर अलग मैजिक होता है?

ये परिवार के जैसा होता है। सभी एक्टर्स मिलते हैं तो एक दूसरे को अपनी लाइन्स भी दे देते हैं। फिल्म में कई ऐसे सीन्स हैं जिन्हे आज भी देखते हुए चेहरे पर मुस्कान आती है।

वीडियो में देखें…

फिल्म के लिए क्या कहना चाहेंगे?

बहुत ही मनोरजन से भरी फिल्म है। इस फिल्म की सीरीज को बनाते हुए मुझे बेहद ख़ुशी होती है। श्रेयस तलपड़े, अजय देवगन, तब्बू, परिणीति चोपड़ा, बृजेश हिरजी, जॉनी लीवर, संजय मिश्रा, मुरली शर्मा सभी लोग मौजूद होने वाले हैं।


बहुत ही मनोरंजन से फिल्म बनाने की कोशिश है। गोलमाल सीरीज का अलग ही मजा है और आज भी वो टीवी पर आती रहती है तो लगता है की कल की बात है। जबकि 7 साल से ज्यादा का वक्त बीत चुका है।

क्लैश?

फिल्म ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ के साथ क्लैश नहीं है, हाँ दोनों अलग सब्जेक्ट हैं और एक साल में 52 हफ्ते होते हैं, तो एक से ज्यादा फिल्मों की रिलीज का काम तो चलता ही रहेगा।

वीडियो देखें…

Source: Zara Antenna Ghumana