साथ में आई गाड़ियों में भी गुस्साए कार्यकर्ताओं ने तोड़-फोड़ कर डाली। बमुश्किल पुलिस कर्मी सुमित कटियार को बचा सके। इस बीच साथ में चल रहे लोग मौका देखकर भाग गए। मामले की शिकायत सीएम से की गई है। आरोपित के खिलाफ क्वार्सी थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

यह है मामला

सीएम योगी आदित्यनाथ विश्व हिंदू महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। आगरा निवासी सुमित कटियार अपने आपको महासंघ का प्रदेश अध्यक्ष बताता है। हिंदू छात्र वाहिनी के संस्थापक अध्यक्ष आदित्य पंडित को कुछ दिन पहले सुमित ने फोन करके कहा कि तुम्हें महासंघ का जिलाध्यक्ष बना देंगे। कार्यकारिणी गठित करने की तैयारी कर लो। शनिवार को सुमित कटियार नौरंगाबाद स्थित युवराज पैलेस में चार गाडिय़ों से अपने दो दर्जन समर्थकों के साथ पहुंच गए। सुमित कटियार के लाव-लश्कर को देखकर आदित्य पंडित के साथ कार्यकर्ता भी झांसे में आ गए और तैयारी को लेकर हजारों रुपये खर्च कर दिए।

21 हजार रुपये की मांग की

आरोप है कि सुमित कटियार ने आदित्य पंडित से संगठन के सहयोग के तौर पर 21 हजार रुपये की मांग कर दी। आदित्य को शक हुआ। उन्होंने गोरखपुर स्थित विश्व हिंदू महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष भिखारी दास प्रजापति से फोन कर असलियत जानी। भिखारी दास ने सुमित कटियार को अनुशासनहीनता के चलते डेढ़ वर्ष पहले संगठन से निकालने की जानकारी दी। इतना सुनते ही आदित्य पंडित के समर्थक भड़क गए। यह देख सुमित कटियार व उसके समर्थक भागने लगे।

पुलिस के सामने ही मारे लात-घूंसे

गुस्साए कार्यकर्ताओं ने उन्हें दौड़ा लिया और लात, घूंसों से पिटाई करने के साथ ही खड़ी चारों गाडिय़ों में तोडफ़ोड़ कर डाली। सूचना पर पहुंची पुलिस के सामने ही आरोपित फर्जी प्रदेशाध्यक्ष को जमकर पीटा, फिर ज्वालापुरी पुलिस चौकी लेकर पहुंच गए। यहां भी कार्यकर्ताओं ने आरोपित को खींचकर ले जाने का प्रयास किया। चूंकि मामला सीएम योगी आदित्यनाथ के संगठन से जुड़ा था सो सीओ सिविल लाइंस अनिल समानिया आ पहुंचे। आरोपित को थाने भिजवा दिया।

आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

बकौल सीओ, आरोपित के खिलाफ योगेश गुप्ता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है। यहां हर्षद हिंदू , मीडिया प्रमुख विशाल देशभक्त, अक्षय चौधरी, लोकेश नागर, अकाश भारद्वाज, रोहित सूर्यवंशी, गोलू ठाकुर, आयुष, आकाश पुंडीर, शिवम भारद्वाज, शशांक वर्मा, अंजू चौधरी, सचिन नागर आदि थे।

सीएम तक पहुंचा मामला 

विश्व हिंदू महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष भिखारी दास प्रजापति ने बताया कि पिछले डेढ़ साल से सुमित कटियार संगठन को गुमराह कर रहा था। सीएम को पूरे प्रकरण से अवगत करा दिया गया है।