Subash Chandra Bose

‘तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हे आजादी दूंगा’ के नारे देने वाले नेता जी ने किया था अंग्रेजों के दांत खट्टे

202

नई दिल्ली। नेता जी सुभाषचन्द्र बोस का आज जन्मदिन पूरे देश में माया जा रहा है। ‘तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हे आजादी दूंगा’ का नारा देने वाले सुभाषचन्द्र बोस ने अंग्रेजों के दांत खट्टे कर दिए थे।

आपको बताते चले कि नेता जी सुभाषचन्द्र बोस का जन्म जन्म 23 जनवरी साल 1897 को हुआ था। नेता जी शरू से ही देश को आजादी दिलाने में लगे थे। 

कहा जाता है कि नेता जी ने र्वोच्च प्रशासनिक सेवा को छोड़कर देश को आजाद कराने की मुहिम का हिस्सा बन गए थे। उस दौरान ब्रिटिश सरकार ने उनके खिलाफ कई मुकदमें दर्ज भी किया था। जिसके कारण उन्हें 11 बार जेल जाना पड़ा था।

Neta ji Bose

Janmanchnews.com

नेता जी ने साल 20 जुलाई 1921 में पहली बार महात्मा गांधी जी से मुलाकात की थी। बताते चले कि गांधी जी की सलाह पर वे भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के लिए काम करने लगे। भारत की आजादी के साथ-साथ उनका जुड़ाव सामाजिक कार्यों में भी बना रहा।

बता दें, बंगाल की भयंकर बाढ़ में घिरे लोगों को नेता जी ने भोजन, वस्त्र और सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने का साहसपूर्ण काम किया था। समाज सेवा का काम नियमित रूप से चलता रहे इसके लिए बोस ‘युवक-दल’ की स्थापना की।