Rajendra Prasad

प्रथम राष्ट्रपति स्वर्गीय राजेन्द्र प्रसाद का श्रद्धापूर्वक मनाया गया पुण्यतिथि

131
Mukesh Goshwami

मुकेश कुमार गोस्वामी

कोडरमा। भारत के प्रथम राष्ट्रपति भारत रत्न स्वर्गीय राजेन्द्र प्रसाद का 56 वा पुण्यतिथि श्रद्धापूर्वक डोमचांच के प्रदीप मेडिकल के पास कांग्रेस स्वास्थ्य विभाग के जिला अध्यक्ष विकास सिन्हा के नेतृत्व में मनाया गया। सभी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने डॉ. राजेन्द्र प्रसाद के चित्र पर पुष्प अर्पित व माल्यार्पण किया गया।

मौकै पर विकास सिन्हा डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जीवनी के बारे में कहा और साथ ही देश के प्रथम राष्ट्रपति की सम्मान में कुछ पल का मौन भी रखा गया। 

उन्होंने संबोधन में बताया की बिहार में सीवान जिले के जीरादेई गांव में 3 दिसंबर 1884 को जन्मे, अधिवक्ता राजेंद्र प्रसाद इंडियन नेशनल कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के साथ स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़े रहें, वे संविधान निर्माण के लिए गठित संविधान सभा के अध्यक्ष निर्वाचित हुए थे।  वर्ष 1951 में देश के प्रथम राष्ट्रपति चुने गए।

राजेंद्र प्रसाद 1957 में दोबारा इस पद पर आसीन हुए उनका 28 फरवरी 1963 को निधन हो गया था। साथ ही वायु सेना को बधाई देते हुए कहा कि पाकिस्तान के आंतकवादियों को हमारे वीर सेना के उसकी औकात दिया हम भारत वासियों को अपनी सेना पर गर्व है।

मोकै पर नीरज कुमार, संतोष पांडेय, पवन कुमार, शिव कुमार, मोहित सिन्हा, प्रशांत कुमार सिन्हा, गोविंद सोनी, दीपक रजक, अजय पंडित इत्यादि दर्जनों लोग उपस्थित हुए।