15 सूत्री मांगो को लेकर हजारों रसोइयों ने नीतीश सरकार के खिलाफ डाला महापड़ाव

200
Dharmaveer Dharma

धर्मवीर धर्मा

पटना। बुधवार को रसोइयों ने अपनी मांग को लेकर नीतीश सरकार के विरोध में धरना प्रदर्शन किया। सभी रसोइयों को सरकारी कर्मी का दर्जा देने, मातृत्व व मासिक विशेष अवकास, ईपीएफ, ईएसआई, पेंशन, सभी को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने सहित 15 सूत्री मांग को लेकर “बिहार राज्य मध्याह्न भोजन रसोइया संयुक्त संघर्ष समिति” के आह्वान पर राज्य भर के दस हजार विद्यालय रसोइया मुख्यमंत्री का घेराव करने पटना के गर्दनीबाग में पहुंची।

आपको बताते चले कि “बिहार राज्य मध्याह्न भोजन रसोइया संयुक्त संघर्ष समिति” से जुड़े बिहार राज्य विद्यालय रसोइया संघ(ऐक्टू), बिहार राज्य मिड-डे मिल वर्कर्स (रसोइया) यूनियन(सीटू), बिहार राज्य विद्यालय रसोइया संघ(एटक), बिहार राज्य मध्यान भोजन कर्मचारी यूनियन (एआईटीयूसी) सहित चार रसोइया संगठनों के आह्वान पर बिहार के 2.48 लाख विद्यालय रसोईयों का 7 जनवरी से जारी अनिश्चितकालीन हड़ताल के 17 वें दिन बुधवार राज्य भर से मुख्यमंत्री का घेराव करने पटना के गर्दनीबाग पहुंची, जहां उन्होंने महापड़ाव शुरू कर दी है।

इस धरना में नीतीश सरकार के खिलाफ विरोधी नारे लगे। रसोईयों की मांग है कि उन्हें सम्मान दो, पूरे काम का पूरा दाम दो, न्यूनतम मजदूरी कानून का उलंघन बन्द करो-रसोईयों को 18000 मानदेय लागू करो।

AITUC

Janmanchnews.com

साथ ही उनकी मांग है कि समाजिक न्याय की आड़ में नहीं चलेगा, समाजिक अन्याय अत्याचार का दस्तूर, 12 सौ में दम नहीं, 18 हज़ार से कम नहीं चलेगा।

वहीं इस महापड़ाव को रसोइया संगठनों के उक्त नेताओं के अलावे केंद्रीय ट्रेड यूनियन (सीटू) के राज्य महासाचिव गणेश शंकर सिंह, ऐक्टू के राष्ट्रीय सचिव रणविजय कुमार, एक्टू के राज्य सचिव नारायण पूर्वे, एआईटीयूसी के राज्य सचिव प्रमोद कुमार,आल इंडिया स्कीम वर्कर्स फेडरेशन व महासंघ(गोप गुट) के अध्यक्ष रामबली प्रसाद, बिहार राज्य आशा कार्यकर्ता संघ (गोप गुट) की राज्य अध्यक्ष शशि यादव मौके पर मौजूद रहे।

इसके आलावा एआईटीयूसी के धर्मेंद्र कुमार, एमडीएम वर्कर्स यूनियन(सीटू) नेता व्यास प्रसाद यादव, बिहार राज्य मध्यान भोजन कर्मचारी यूनियन अध्यक्ष नरेश राम,विद्यालय रसोइया संघ(ऐक्टू) राज्य सचिव सोहिल गुप्ता, ऐक्टू नेता जितेंद्र कुमार, दिनेश कुशवाहा ने खास तौर से महापड़ाव और मुख्यमंत्री घेराव कार्यक्रम को सम्बोधित किया।