BREAKING NEWS
Search

बनारस: एक दशक बाद फिर घनघनाई दहशत की घंटी, ट्रांसपोर्टर से मांगी गई 50 लाख की रंगदारी

176
Share this news...

वाराणसी के मुन्ना बजरंगी गैंग के वांटेड अपराधी विश्वास नेपाली के नाम से व्यापारी को आया धमकी भरा कॉल… 

Authorised to cover news stories

Abid Hussain (Crime In charge JNN Varanasi Desk)

बनारस: जरायम जगत में दशक भर बाद अचानक कुख्यात 50 हजार इनामी विश्वास नेपाली का नाम सुनते ही ट्रांसपोर्टर के माथे से पसीना छूटने लगा। उसने फौरन पुलिस अधिकारियों से गुहार लगाई और सुरक्षा की मांग की। मुकदमा दर्ज कर पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

खुद को विश्वास नेपाली बताने वाले ने धमकी भरे लहजे में कहा कि 50 लाख रुपये दे दो वरना ऊपर जाकर बिजनेस करो। बौखलाये ट्रांस्पोर्टर नें पुलिस के हायर अथारिटी से मदद मांगी है।

मुन्ना बंजरंगी गिरोह का सदस्य और पिछले एक दशक से फरार चल रहे 50 हजार के इनामी बदमाश विश्वास नेपाली के नाम से ट्रांसपोर्टर से 50 लाख की रंगदारी मांगी गई है। पहले उसके कार्यालय में दो बदमाशों ने रंगदारी के लिए असलहा दिखाकर धमकाया फिर फोन पर तीन से चार बार विश्वास नेपाली के नाम से रंगदारी के लिए धमकी दी गई। 

डरे और सहमे ट्रांसपोर्टर ने पुलिस उच्चधिकारियों से गुहार लगाई तो चेतगंज थाने की पुलिस ने मुक़दमा दर्ज करते हुए फोन कॉल को ट्रेस करना शुरू कर दिया है। ट्रांसपोर्टर के धूपचंडी स्थित कार्यालय पहुंचकर चेतगंज पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने सीसीटीवी फुटेज खंगालने सहित अन्य तफ्तीश में जुट गई है। पुलिस ने ट्रांसपोर्टर को सुरक्षा भी मुहैया करा दी है।

शिवपुर थाना अंतर्गत तरना के रहने वाले पंकज शुक्ला° की लंबे समय से ट्रांसपोर्ट का कारोबार चल रहा है। । चेतगंज थाना के धूपचंडी इलाके में उनका ट्रांसपोर्ट कार्यालय है।  ट्रांसपोर्टर के अनुसार बुधवार शाम कार्यालय में हेलमेट लगाए दो बदमाश घुसे और असलहा सामने रखते हुए 50 लाख की रंगदारी की मांग की।

Vishwas Nepali

50 हजार का इनामी बदमाश विश्वास नेपाली

 

यही नहीं, बदमाशों के जाने के बाद फोन आया और उधर से अपने को विश्वास नेपाली बताने वाले ने धमकी भरे लहजे में कहा कि 50 लाख रुपये दे दो, अन्यथा व्यापार करने लायक नहीं रहोगे। 

वाराणसी की जरायम जगत में दशक भर बाद अचानक कुख्यात 50 हजार इनामी विश्वास नेपाली का नाम सुनते ही ट्रांसपोर्टर के माथे से पसीना छूटने लगा।

फौरन पुलिस अधिकारियों से ट्रांसपोर्टर ने गुहार लगाई और सुरक्षा की मांग की। इस दौरान अधिकारियों के निर्देश पर चेतगंज थाने में रंगदारी समेत अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज किया गया। चेतगंज इंस्पेक्टर संध्या सिंह ने बताया कि ट्रांसपोर्टर की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

विश्वास नेपाली पर 30 से ज्यादा मुकदमे

वर्ष 2001 में वाराणसी के भेलूपुर थाना में विश्वास नेपाली के खिलाफ धमकाने के आरोप में पहला मुकदमा दर्ज हुआ था। 2001 में ही उसके खिलाफ रंगदारी मांगने के आरोप में कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज किया गया। इसके बाद कोतवाली थाने की पुलिस ने उसके खिलाफ गुंडा एक्ट और गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की।

जेल से जमानत पर छूटने के बाद विश्वास नेपाली अनुराग त्रिपाठी उर्फ़ अन्नू त्रिपाठी और मुन्ना बजरंगी से जुड़ गया। नेपाली के खिलाफ लूट, हत्या, अपहरण और रंगदारी मांगने के आरोप में 30 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं।



©All Rights Reserved in the name of Janmanch Media under Copyright Act. 

°व्यापारी का नाम और तस्वीर सुरक्षा की दृष्टि से गुप्त रखा गया है। खबर में प्रयोग किया गया नाम काल्पनिक है।

Share this news...