व्यापार मण्डल

वाराणसी मेयर के सामनें व्यापार मंडल अध्यक्षों के बीच हो गई हाथापाई, गालियों का भी चला दौर

336

यह सब मेयर मृदुला जायसवाल के सामनें ही हो रहा था लेकिन मीडिया द्वारा पूछने पर मेयर नें ऐसी गाली-गलौच का गवाह बनने से बेहतर “मैं वहां मौजूद नही थी” कहना बेहतर समझा…

Tabish Ahmed

ताबिश अहमद

 

 

 

 

 

वाराणसी: सिगरा थाना क्षेत्र के एक होटल में उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल का सदस्यता बढ़ाओ अभियान और मेयर मृदुला जायसवाल के अभिनन्दन समारोह आयोजित था। इस दौरान दो व्यापार मंडलों के अध्यक्षों के बीच हुई जमकर गाली-गलौच और धक्‍का-मुक्‍की हुई। मेयर का गनर को भी बीच-बचाव करते देखा गया। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान मेयर का अभिनन्दन समारोह किसी प्रकार अफरा-तफरी के बीच संपन्‍न हुआ। झगड़नें वाले दोनों व्यापरियों ने एक दूसरे पर आरोप लगाया हैं।

एक तरफ शहर में पधारे राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद महोदय काशी की सभ्यता और संस्‍कृति की तारीफ़ कर रहे थे, ठीक उसी वक्‍त दूसरी तरफ़ शहर के दो सम्मानित व्‍यापारिक संगठनों के अध्यक्ष महापौर मृदुला जायसवाल के सामने ही लड़ बैठे। इस दौरान जमकर गाली-गलौज हुई। यहां तक कि दोनों पक्षों ने एक दूसरे को देख लेने की धमकी तक दे डाली।

दरअसल, वाराणसी के एक होटल में व्यापार मंडल के मंडलीय सम्मलेन में उस समय अफरा तफरी का माहौल उत्‍पन्‍न हो गया जब नगर व्यापार मंडल के अध्यक्ष अजीत सिंह “बग्गा” और रेश्मी धागा संघ के अध्यक्ष, मोहन लाल मंच पर बैठने को लेकर मेयर के सामने ही हाथापाई के साथ गाली गलौज करने लगे।

नगर व्यापार मंडल के अध्यक्ष अजीत सिंह “बग्गा” ने साजिश का आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ लोगों ने मुझे उत्तर प्रदेश व्यापार मण्डल के अध्यक्ष पूर्व सांसद पंडित श्याम बिहारी मिश्र के इशारे पर गाली दी और मुझसे झगड़े पर उतारू हो गए। इसके तहत वाराणसी के रेश्मी धागा संघ के अध्यक्ष, मोहन लाल मुझसे झगड़ने लगे। वहीं अजित सिंह ने प्रदेश अध्यक्ष पर आरोप लगाया कि वह सभी जिलों में जाकर व्यापारियों से वसूली करने का काम करते हैं।

इस मामले में अपना पक्ष रखते हुए रेश्मी धागा संघ के अध्यक्ष मोहन लाल ने कहा कि पूरे कार्यक्रम में अराजकता का माहौल बनाने के लिए ऐसा किया गया है। जिला व्यापार मंडल के अध्यक्ष और महामंत्री पूरी तरह इस कार्यक्रम को खराब करने पर लगे हुए थे।