BREAKING NEWS
Search
Cow dead

योगी राज में गाय का शव नगर निगम के कर्मचारियोंं नें कूड़े के ढ़ेर में फेंका

416
Ajit Pratap Singh

अजित प्रताप सिंह

कानपुर। नगर निगम की उस समय एक बड़ी लापरवाही सामने आई जब नगर निगम की कूड़ा उठाने वाली गाड़ी से एक गाय का शव मसवानपुर स्थित मामा तालाब के पास नगर निगम के कर्मचारियों ने फेंक दिया और चलते बने l यह तालाब मसवानपुर चौराहा के पास स्थित है जो की काफी व्यस्त मार्ग है।

कुछ देर बाद यहां से निकलने वाले लोगों को सड़ांध की महक आई। जानकारी करने पर जब लोगों ने कूड़े के ढेर पर देखा तो गाय का शव दिखा। गाय के शव मिलने की सूचना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई l देखते ही देखते सैकड़ों लोग मामा तालाब के पास इकट्ठा हो गए, गाय के शव की सूचना बजरंग दल के कार्यकर्ताओं तक पहुंची तो भारी संख्या में बजरंग दल के नेता और कार्यकर्ताओं ने मौके पर पहुंचकर नगर निगम के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया।

Read this also-

बच्चा मृत पैदा होने की खबर सुन परिजनों का हंगामा, चिकित्सक दम्पति के साथ की मारपीट

बजरंग दल के जिला सह संयोजक अजय ने गाय के शव मिलने की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम में 100 नंबर पर दी, जिस पर पुलिस ने मौके पर आकर जांच पड़ताल की। इस बाबत जब नगर निगम इंस्पेक्टर विपिन गुप्ता से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि उनके पास समय नहीं है। वह अभी किसी कार्य में व्यस्त हैं इसलिए वह इस मामले में कुछ नहीं कर सकते।

इतना सुनते ही बजरंग दल और क्षेत्रीय लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया और वह लोग रोड जाम कर नारेबाजी का प्रयास करने लगे। किन्तु पुलिस ने JCB मंगवाकर लोगों को शांत कराया और जेसीबी की मदद से वहीं पर गड्ढा खोदकर गाय को दफना दिया गया । किंन्तु सवाल यह उठता है कि जहां एक तरफ मुख्यमंत्री और आला अधिकारी स्वच्छ कानपुर सुंदर कानपुर का नारा दे रहे हैं वही नगर निगम के अधिकारी उनकी मंशा पर बट्टा लगाते नजर आ रहे हैं। 

आखिर इतनी बड़ी चूक नगर निगम के कर्मचारी कैसे कर सकते हैं। साथ ही साथ एक तरफ उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गायों के संरक्षण के लिए करोड़ों रुपया पानी की तरह बहा रहे हैं तो वहीं नगर निगम के कर्मचारी गौ माता के शव को एक जगह से उठाकर दूसरी जगह कूड़े के ढेर में फेंक कर स्वच्छ भारत के मिशन को एवं मुख्यमंत्री के व प्रधानमंत्री के मंसूबों पर पानी भरने का काम कर रहे हैंl