BREAKING NEWS
Search
child

माँ का रिश्ता हुआ तारतार, नाली में मिला नवजात शिशु

869

मीनाक्षी मिश्रा,

लखनऊ/काकोरी: वैसे तो माँ को भगवान का दूसरा रूप कहा जाता है। प्राचीन समय से कहावत प्रचलित है कि पूत कपूत हो सकता है लेकिन माता कुमाता नही हो सकती। लेकिन जैसे-जैसे परिस्थितियां बदल रही हैं माँ का रूप भी परिवर्तित होता जा रहा है। बीते दिनों में माँ अपने बच्चे के लिये हर बलिदान के लिये लालायित रहती थीं। किन्तु ऐसी कलयुगी माँ को किन शब्दों में वर्णित किया जाये जो अपने अजन्मे बच्चे की हत्यारिन स्वयं बन जाये।
यह मामला लखनऊ जनपद में काकोरी थाना क्षेत्र के कस्बा चौकी के कटरा बाजार खोया मंडी के पास नाली में एक अजन्मे बच्चे का शव मिलने से हड़कम्प मच गया। वहीं माँ की ममता को शर्मसार करने वाले इस शर्मनांक वाकिये को देखकर यही कहा जा सकता है कि आधुनिकता की अंधी दौड़ में माँ भी हैवान का रूप धारण करती जा रही है।

दरअसल दिन के तकरीबन 2 बजे के वक्त लोगों ने उस वक्त शर्म से दांतों तले उंगलियाँ दबा लीं जब एक अजन्मे शिशु का शव नालियों में पड़ा देखा। हैरत में पड़े लोगों ने इसकी जानकारी 100 नं. पुलिस को दी। जिसके पश्चात हरकत में आयी 100 नं की पुलिस के साथ कस्बा चौकी मे तैनात घनश्याम कांस्टेबल मौके पर पहुँचे। व शव को निकालकर पोस्ट मार्टम के लिये भेज दिया।
लेकिन सवाल वही है क्या कोई माँ अपने कोख में पल रहे बच्चे की स्वयं हत्यारिन बन सकती है। या माजरा कुछ और है, यह तो तहकीकात के बाद ही पता चलेगा। किन्तु यदि दोषी माँ है तो यह माँ के आंचल पर कुठाराघात है।