BREAKING NEWS
Search
baby beaten by step father

4 वर्ष की मासूम बच्ची को गर्म चाकू से जलाया, लोहे की छड़ से बुरी तरह पीटा

558

बनारस के हसनपुरा क्षेत्र का मामला, बच्ची की ओर से खड़ा हुआ पूरा मुहल्ला, पुलिस को सौतेली बहन और जीजा के विरुद्ध दी गई लिखित शिकायत…

Shabab Khan

शबाब ख़ान

वाराणसी: समाज से खत्म होती इंसानियत की एक और दर्दनाक बानगी से रूबरू होकर आज फिर यह बात दिल के अंदर तक चीरती चली गई।

यदि किसी बच्चे के मां-बाप इस दुनिया में नही हैं तो उस अभागे बच्चे की जिन्दगी किस तकलीफ में गुजरती होगी। वाराणसी के आदमपुर थानाक्षेत्र के हसनपुरा मुहल्ले में आज कुछ ऐसा ही हुआ जब वास्तव में दिल रो ही पड़ा।

ज़रा सोचिए, 4 वर्ष की उम्र क्या होती है? ज़रा सोचिए जब एक बिन मां-बाप की मासूम बच्ची के शरीर पर गर्म चाकू और लोहे की छड़ से प्रहार हुआ होगा तो उसे कैसा लगा होगा? सोंच कर ही ऑखें नम हो उठेगी। लेकिन आज रात्री तकरीबन 10:00 बजे ऐसा हुआ।

बिन मां-बाप की चार वर्षीय आलिया को उसकी सौतेली बहन ने पहले चाकू को चूल्हे पर गर्म करके पूरे शरीर पर जगह-जगह जलाया, बच्ची चीखती रही लेकिन फर्क नही पड़ा। जब बच्ची को जलाने से दिल नही भरा तो उसे लोहे की छड़ से बुरी तरह पीटा। बच्ची की दर्दनाक चीखे सुनकर मुहल्ले वालो नें घर में जाकर देखना चाहा कि आखिर बच्ची इस तरह क्यो तड़प रही है तो सौतेली बहन का पति यानि आलिया का सौतेला जीजा मुहल्ले वालों से भिड़ने को तैयार हो गया।

मामला गर्म होते देख किसी नें डॉयल 100 को घटना की जानकारी दे दी। जिसके कुछ देर बाद मछोद्दरी चौकी इंचार्ज आशुतोष पाण्डेय मौके पर पहुंच गये। दर्द से छटपटाती बच्ची को देखकर आशुतोष पाण्डेय नें मुहल्ले के कुछ मानिंद लोगों से चिकित्सीय सहायता के लिए बच्ची को मण्डलीय अस्पताल भेजवा दिया। जहां बच्ची की हालत नाज़ुक बनी हुई है।

इधर कानूनी कार्यवाई के लिए पुलिस प्रशासन को लिखित तहरीर की आवश्यकता पड़ गई, लेकिन बच्ची का कोई सगा होगा तभी तो क्रूरता की हदे पार गई सौतेली बहन और उसके पति के विरुद्ध लिखित शिकायत देगें। एक बारगी तो लगा कि मामला वही खत्म, न कोई लिखित शिकायत और न कोई कानूनी कार्यवाई। लेकिन दाद देनी होगी हसनपुरा के लोगो की, अमूमन मुहल्ले वाले कानूनी पचड़ो मे पड़ने से बचते है। लेकिन हसनपुरा में ऐसा नही हुआ। क्षेत्रीय नागरिकों नें लिखित शिकायत आदमपुर पुलिस को उपलब्ध करा दी।

क्षेत्रीय नागरिको की लिखित शिकायत पर पुलिस आगे की कार्यवाही कर रही है। क्षेत्रीय नागरिको ने पीड़िता मासूम बच्ची आलिया की आरोपी सौतेले जीजा सोनू और सौतेली बहन नाजमा के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज करवाई है। अब पुलिस प्रशासन के हाथ में है कि वह मासूम बच्ची की दोषियों को कड़ी सज़ा दिलवाती है या यूँ ही हल्का-फुल्का हड़की-घुड़की से काम चलाती है, इस पर हम पैनी नज़र बनाए रखेगें, क्योकि किसी किताब में पढ़ा था कि भगवान का दूसरा रूप बच्चे ही होते हैं।

[email protected]