BREAKING NEWS
Search
Janmanchnews.com

लापरवाही में गयी संविदा कर्मी की जान, जांच से स्थिति की होगी पड़ताल

305
Meenakshi Mishra

मीनाक्षी मिश्रा

अमेठी। विदित हो कि विद्युत विभाग की रीढ़ संविदा कर्मियों पर टिकी रहती है। ज्यादातर संविदा कर्मी दिन रात मेहनत करके हमारे घरों में उजियारा करते हैं।

किन्तु हमेशा से इन पर घूसखोरी का इल्जाम लगना लाजमी है क्योंकि इनके कार्य के अनुसार इन्हे कभी भी मानदेय नही मिल पाता।

और तो और अपनी जान जोखिम में डाल कर दिन रात कार्य करने वाले लाइन मैन यदि काल का ग्रास बनते हुए करंट की चपेट में आ जायें तो उनके पूरे परिवार के भरण पोषण के लिये सरकार का कोई मानक नही है।

ऐसा ही एक बेहद दर्दनाक हादसा जनपद अमेठी में आज उस वक्त देखने को मिला जब एक संविदा कर्मी की लाइन ठीक करते वक्त करंट की चपेट में आने से मौत हो गई। वैसे तो लाइन मैन किसी भी क्षेत्र की सप्लाई ठीक करने से पहले विद्युत की उस क्षेत्र के स्टेशन से कटौती कराते हैं। किन्तु कई बार स्टेशन पर स्थित विद्युत कर्मियों की लापरवाही के चलते उनकी जान जोखिम में पड़ जाती है।

दरअसल लाइन मैन नन्हे मौर्या जो कि गौरीगंज क्षेत्र कार्यरत थें। काजीपट्टी क्षेत्र में खम्भे पर चढ़कर लाइन ठीक कर रहे थें। उसी दौरान विद्युत सप्लाई चालू हो जाने से वह करंट की चपेट में आ गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी।

वहीं सम्बंधित क्षेत्र के अधिशाषी अभियंता भरत सिंह का कहना है कि हमें भी ऐसी जानकारी मिली है। यह हादसा कैसे हुआ जांच का विषय है।

किन्तु वाजिब प्रश्न यह है कि कोई भी लाइन मैन बिना विद्युत अवरोध की जानकारी लिये लाइन ठीक करने के लिये अपनी जान जोखिम में नहीं डालता। फिर एक विद्युत कर्मी के कार्य पूरा होने की जानकारी दिये बिना ही जबर्दस्त लापरवाही बरतते हुए विद्युत सप्लाई चालू कैसे हो गयी। जिसने एक संविदा कर्मी की आहलीला को ही समाप्त कर दिया।

[email protected]

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करें।