Journalist union

पत्रकार उत्पीड़न मामले में SP को पत्रकारों का ज्ञापन

180
Meenakshi Mishra

मीनाक्षी मिश्रा

जनपद अमेठी। पत्रकार उत्पीड़न मामले में वन कॉल सोल्यूशन के साथ साथ श्रमजीवी परिवार के सदस्यों ने एस पी को ज्ञापन दिया।

साथ ही महिला पत्रकार मीनाक्षी मिश्राराजीव ओझा के मामले में हो रही हीला हवाली व फोरेंसिक कराने के सम्बन्ध में एस पी को ज्ञापन दिया। साथ ही पत्रकारों का उत्पीड़न बन्द करने की अपील की।

विदित हो कि महिला पत्रकार मीनाक्षी मिश्रा को ससुराल पक्ष के द्वारा बेहद शातिराना तरीके से धीमा जहर देकर जान से मारने की कोशिश की जा रही। जिसमें पुलिस अभी तक फोरेंसिक कराने में असमर्थ रही। साथ ही महोना हत्याकांड में राजीव ओझा की गाड़ी जला दी गयी थी।

जिसकी विवेचना में हीला हवाली जारी है। वही पुलिस अधीक्षक का कहना था कि घर में पड़े संदिग्ध सामान की जांच कराने पर विपक्षी सवाल उठा सकते हैं। जबकि महिला पत्रकार द्वारा आरोप है कि उसके पति द्वारा घर पर ही धीमा जहर देकर जान से मारने की कोशिश की गयी। जिसका इलाज डॉक्टर सौरभ सिंह ने किया। तो महिला के घर पर पड़े संदिग्ध सामान की फोरेंसिक कराने में पुलिस क्यों असमर्थ है , समझ से परे है।

जिसको लेकर वन कॉल सोल्युशन के मैनेजिंग डायरेक्टर राहुल द्विवेदी,  महासचिव सोनू जायसवाल, अशोक पांडेय, मलखान सिंह, श्रमजीवी पत्रकार एसोशिएसन का प्रतिनिधि मंडल एसोसिएशन संरक्षक नीरज सिंह व जिलाध्यक्ष ललित सिंह, पवन यादव, बद्रीपाल सिंह, वरिष्ठ पत्रकार संतोष श्रीवास्तव, विनोद श्रीवास्तव, अनिल भदौरिया आदि ने पुलिस अधीक्षक पूनम को ज्ञापन देकर त्वरित कार्यवाही की मांग की।

जिसपर पुलिस अधीक्षक ने भरोसा दिलाया कि दोनों मामलों में त्वरित कार्यवाही करते हुए निष्पक्ष जांच की जाएगी। साथ ही संलिप्त अपराधियों को दण्डित किया जायेगा।

Meenakshi@janmanchnews.com