BREAKING NEWS
Search
murder

योगी राज में अत्याचार की इन्तेहाँ! बालू खनन माफिया ने दलित बच्चे को जिंदा दफनाया, एक की मौत

423
Share this news...

इंसानियत हुई शर्मसार… बालू खनन के ठेकेदारों ने दलित के बच्चे को जिंदा दफनाया।

संजय मिश्रा,

बहराइच। बहराइच में दलित को अपने जमीन के पट्टे में बालू खनन का विरोध करना भारी पड़ गया। आज दोपहर पीड़ित के बच्चे का शव उसके पट्टे के पास बालू में दबा मिला।
वहीं एक अन्य बच्चे के भी गायब होने की बात सामने आयी है। पीड़ित पिछले कई दिनों से अपने पट्टे की जमीन में बालू निकासी का विरोध कर रहा था। उसने इस बाबत जिलाधिकारी समेत अन्य आला अफसरों से हो रहे अवैध खनन की लिखित शिकायत दर्ज कराई थी।
बच्चे का शव मिलने के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने बालू खनन में लगे ठेकेदार के बैठने की झोपड़ी में आग लगा दी है। व उसकी अल्टो को तोड़ कर क्षतिग्रस्त कर दिया है।
इतना ही नही आक्रोशित ग्रामीणों ने बालू खनन में लगी ट्रकों, पोकलैंड मशीन व जे सी बी मशीनों में जम कर तोड़ फोड़ की है। वहीं ग्रामीण अभी भी बच्चे का शव रख कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं उनका कहना है कि गुमसुदा बच्चे के मिलने व खनन बन्द होने तक वो न ही बच्चे का दाह संस्कार करेंगे न ही उसका पंचनामा कर उसका अंतिम संस्कार करेंगे।

बहराइच के बौंडी थाना क्षेत्र के भौंरी गांव में दलित चेतराम को अपनी जमीन में बालू खनन रोकना भारी पड़ गया। चेतराम ने पिछले दिनों में जिलाधिकारी समेत अन्य आला अफसरों से लिखित शिकायत दर्ज कराते हुए कहा कि उसके पट्टे की जमीन में बालू खनन ठेकेदार अवैध तरीके से जबरन बालू खनन कर रहे हैं।

अभी इस पर कार्यवाही हो भी नही पाई थी कि आज दोपहर शिकायतकर्ता चेतराम का 5 वर्षीय मासूम बेटे की बालू में दबे होने की सूचना मिली। ये बालक वहीं बालू में दबा पड़ा था जहां जे सी बी व पोकलैंड मशीनों से तेजी से बालू खनन हो रहा है। और इसका जमीन का पट्टा भी वहीं है।

गौरतलब है कि बाढ़ प्रभावित इस गांव के समीप ही घाघरा नदी की कटान है औऱ यह गांव नदी की कटान में है। पिछले दिनों इ टेंडरिंग के माध्यम से बालू के खनन के लिए ठेकेदारों को पट्टे आवंटित किए गए हैं। और उसी के तहत यहां सैकड़ों ट्रालियों व ट्रकों से बालू की निकासी हो रही है।

बच्चे का शव मिलने के बाद ग्रामीण बुरी तरह आक्रोशित हैं। वहीं एक अन्य बच्चे की तलाश की जा रही है उसकी माँ का कहना है कि उसके बच्चे को भी दबा कर मार दिया गया है। पीड़ित माँ अपने गुमशुदा बेटे की चप्पल लेकर उसकी तलाश कर रही है। वहीं संवेदनहीन ठेकेदारों के कारिंदे इतना होने के बावजूद बालू की ढुलाई जारी रखे हैं।

मौके पर पहुँचे एसडीएम नागेंद्र ने बताया कि भाजपा विधायक पुत्र निशंक त्रिपाठी सहित 2 पर नामजद तथा 5 अज्ञात लोगों पर हत्या और दलित उत्पीड़न का मामला दर्ज किया गया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

 

Share this news...