BREAKING NEWS
Search
Varanasi police

बैग कारोबारी हत्याकांड में कई लोग हैं शक के घेरे में, खुलासे के लिए पुलिस दे रही है लगातार दबिश

416

हत्याकांड के विरोध में बंद रही क्षेत्र की दुकानें, राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी ने कसे पुलिस अफसरों के पेंच, कहा शीघ्र खुलासा करें वरना कार्यवाई के लिए रहें तैयार…

Shabab Khan

शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

वाराणसी। चौक के राजा दरवाजा में बीती रात बैग व्यापारी मोहन निगम की हुई हत्या के विरोध में मंगलवार को क्षेत्र की दुकानें बंद रही। राज्यमंत्री डॉ. नीलकंठ तिवारी ने घटना में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी का आदेश दिया था। उनके आदेश के बाद सोमवार रात से ही पुलिस की कई टीमें गठित कर दी गयी है जो ताबड़तोड़ दबिश देकर छानबीन में जुटी हुई है।

पुलिस इस मामले में संपत्ति और रंगदारी दोनों पहलुओं को केंद्रबिन्दु में रखकर जांच कर रही है। सूत्रों के मुताबिक पूछताछ के लिए पुलिस ने मृतक के बड़े भाई रामचन्द्र निगम और भतीजे सहित दो अन्य लोगों को हिरासत में लिया है। शहर के सबसे व्यस्तम क्षेत्र में वारदात से क्षेत्रीय व्यापारियों के बीच आक्रोश व्याप्त रहा। व्यापारी और क्षेत्रीय लोग मृत व्यापारी के घर शोक संवेदना जताने दिनभर पहुंचते रहे।

Read this also…

वाराणसी भगदड़ मामले में हुई पहली गिरफ़्तारी, जय गुरुदेव के 25 अनुयायी पुल टूटनें की अफवाह से कुचल मरे थे

इस दौरान मृत व्यापारी की पत्नी और अन्य सदस्यों के रुदन और चित्कार से माहौल बोझिल रहा। बीएचयू में शव का पोस्टमार्टम होने के बाद सुरक्षा के बीच जैसे ही शव व्यापारी के आवास पहुंचा परिवार में कोहराम मच गया।

पुलिस सूत्रों की माने तो शक की सुई शानू, सलमान गैंग पर भी है। आठ महीने पूर्व इसी गैंग के बदमाशों ने मोहन निगम के साले से दस लाख रुपये रंगदारी मांगी थी। मोहन निगम व सुनील निगम प्रापर्टी का धंधा भी करते थे।

हालांकि रंगदारी मांगने वाले इस गैंग के कुछ बदमाश आठ अप्रैल को ठठेरी बाजार में हुई ज्वेलर्स शोरूम डकैती में गिरफ्तार होकर जेल में हैं। चौक पुलिस दोनो पहलुओं पर गहराई से छानबीन कर आरोपियों के धरपकड़ में जुट गयी है।

Read this also…

मुजफ्फरपुर में प्रमुख के पति को जान से मारने की की गई कोशिश

बताते चले कि सोमवार की रात बारिश के दौरान जब क्षेत्र में विद्युत् कटौती थी उस वक़्त मोहन निगम अपने दुकान पर बैठे थे, तभी ताक में लगे बदमाशों ने अंधेरे का फायदा उठाकर तीन गोली दाग दी।

बदमाशों ने मोहन के सर पर गोली मारी थी जिससे वह खून से लथपथ दुकान में गिर गए। घटना के बाद मौके पर पहुंची चौक पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने आसपास के दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों की खोज की और अब उसकी फुटेज के आधार पर हत्यारों की तलाश शुरू कर दी है।

सहयोगी: ताबिश अहमद

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करें।