BREAKING NEWS
Search
varanasi police on raksha bandhan

बनारस के पुलिसकर्मीयों की कलाई पर बच्चियों, महिलाओं नें राखी बांधकर लिया सुरक्षा का वचन

341

एसआई राघवेंद्र सिंह नें कहा बच्चियों नें बांधी राखी तो कम हुई परिवार से दूर रहने की कसक, हर कीमत पर रखेगें राखी की लाज….

वाराणसी ब्यूरो,

वाराणसी: पौराणिक नगरी काशी में आज रक्षा बंधन पर्व धूमधाम से मनाया गया। बहन और भाई के स्नेह का प्रतीक यह पर्व आज के आधुनिक वायरलेस युग में भी पूरी श्रद्धा और पवित्रता से मनाया जाता है। बहन भाई से वचन लेती है कि वो अपनी एंव दूसरों की बहनों की भी हर तरह से सुरक्षा करेगें, और इस वचन की निशानी के तौर पर भाईयों की कलाईयों पर बहन एक धागा बांधती। हालांकि यह धागा दिखने में सामान्य सा होता है लेकिन जिसकी कलाई पर यह बंधा होता है वो अपनी एंव दूसरों की बहनों की सुरक्षा के प्रति वचनबद्ध होतें हैं।

आमतौर पर बहनें अपने सगे और मुँहबोले भाईयों की कलाईयों पर आज के दिन राखी बांधतीं हैं, उनका मुँह मीठा करातीं हैं। लेकिन इस वर्ष का रक्षा बंधन का यह पर्व कुछ खास रहा।

बनारस में अपनें परिवारों और सगे संबंधियों से दूर हमारी-आपकी, आम जनमानस की सुरक्षा में लगे विभिन्न थानों में तैनात पुलिसकर्मीयों की कलाईयों पर काशी की बच्चियों, युवतियों और महिलाओं नें थानों में जाकर राखी बांधी, उनके मुँह मीठे कराये और अपनी तथा समाज की दूसरी बहनों की सुरक्षा का पुलिसकर्मीयों से वचन लिया। इतनी सारी बहनों की राखियॉ अपनी कलाईयों पर सजी देख पुलिसकर्मी भी फूले नही समा रहे थें।

varanasi police

Janmanchnews.com

इसी कड़ी में आज वाराणसी के आदमपुर थाना अंतर्गत लाट भैरव चौकी पर क्षेत्रीय महिलाओं द्वारा लाट भैरव चौकी प्रभारी विजय प्रताप सिंह, हनुमान फाटक चौकी प्रभारी राम प्रकाश कश्यप और आदमपुर थानें के जवानों को राखी बांधी और पुलिस विभाग से गरीब असहाय महिलाओं की मदद करनें का वचन लिया। श्री सिंह नें कहा इस तरह काशी की बहनों का प्यार मिलना आत्मविभोर कर गया, श्री कश्यप नें भी इसे एक कभी न भूलने वाला सुखद अनुभव बताया। दोनों नें एक सुर में कहा कि राखी की लाज जरूर रखेगें।

varanasi police

Janmanchnews.com

अादमपुर थानाध्यक्ष आशेष नाथ सिंह की कलाई पर भी राखियां बांधी गई। लेकिन उनसे कमेंट नही लिया जा सका।

उधर मंडुआडीह थाने पर तैनात विभिन्न रैंक के पुलिस अधिकारियों की कलाईयों पर राखी बांधनें बच्चियों एवं किशोरियों का एक ग्रुप राखियों एवं मिठाईयों के साथ थानें पहुँचा। जिसे थानें के पुलिसकर्मियों नें सहर्ष स्वीकर किया। मंडुआडीह थाने पर मौजूद सब-इंस्पेक्टर राघवेंद्र सिंह की कलाई पर जब एक छोटी बच्ची नें प्यार से राखी बांधी तो वह मुस्कुरा उठे।

varanasi police

Janmanchnews.com

राघवेंद्र नें बताया कि घर परिवार से दूर रहकर पुलिस सर्विस करना आसान नही होता, हर पर्व पर घर जाने की छुट्टी मिलना मुश्किल होता है क्योंकि हमारे कंधों पर नगर में रहने वाली हजारों बहन की सुरक्षा का दायित्व होता है, जिसे पूरी इमानदारी से निभानें के वास्ते रक्षा बंधन जैसे पर्व पर भी अपनी बहनों से मिलना मुमकिन नही हो पाता। लेकिन इस रक्षा बंधन के पर्व पर थानें आकर जब इन छोटी बच्चियों नें राखी बांधी तो परिवार से दूर रहनें की कसक कुछ हद तक कम हो गई। राघवेंद्र नें कहा कि इन छोटी-छोटी बहनों की राखी की कीमत उनकी एंव उनके जैसी दूसरी बहनों की सुरक्षा करके वह अवश्य चुकाएंगें। 

[email protected]

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करें।