BREAKING NEWS
Search
जेल

वाराणसी सेंट्रल जेल में पेड़ पर चढ़ा कैदी, अपनी मांगें मनवाने के लिए घंटों छकाता रहा प्रशासन को

422

एडीएम सिटी और एसपी सिटी ने समझा बुझाकर उतरवाया नीचे…

Tabish Ahmed

ताबिश अहमद

 

 

 

 

 

वाराणसी: सेंट्रल जेल में आज एक कैदी नें वो नौटंकी किया कि जेल प्रशासन के साथ जिला प्रशासन के भी होश उड़ गये। दरअसल एक कैदी जो जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा है उसे एक दूसरे कैदी नें जो छूटकर बाहर जा रहा था धमकी दे दी कि वो इसके परिवार को खत्म कर देगा। परेशान कैदी को जब कुछ नही समझ आया तो वह जेल प्रागंण के पेड़ पर चढ़ गया और तब तक नही उतार जब तक उसे आश्वासन नही मिल गया कि उसके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई जायेगी।

आजीवन कारावास की सजा काट रहे गोंडा निवासी कैदी नें गुरुवार को पेड़ पर चढ़कर तकरीबन तीन घंटे तक हंगामा किया। उसका कहना था कि जेल से रिहा हो चुके हरदोई निवासी एक व्यक्ति ने उसके परिवार को खत्म करने की धमकी दी है।

मामले को लेकर उसने जेल प्रशासन से गुहार लगाई तो सुनवाई नहीं हुई। उसकी मांग थी कि मौके पर डीएम को बुलाया जाए नहीं तो वह कूद कर जान दे देगा। जेल प्रशासन की सूचना पर एडीएम सिटी और एसपी सिटी मौके पर पहुंचे।

दोनों अधिकारियों ने आश्वस्त किया कि रामसेवक के परिवार की पूरी सुरक्षा की जाएगी। इसके बाद वह उतर कर अपनी बैरक में चला गया। सेंट्रल जेल के वरिष्ठ अधीक्षक अंबरीष गौड़ ने बताया कि पेड़ पर चढ़ा कैदी रामसेवक हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहा है।

उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं रहती है। और उसका उपचार पांडेयपुर स्थित मानसिक अस्पताल में कराया जा रहा है। गुरुवार को 9:30 बजे के लगभग रामसेवक अपनी बैरक से बाहर आया और समीप ही मौजूद बरगद के पेड़ पर चढ़ गया।

तकरीबन दो घंटे तक बंदीरक्षकों, जेलर और अधीक्षक ने उसे नीचे उतारने की कोशिश की लेकिन वह तैयार नहीं हुआ। इसके साथ ही, वह डीएम को बुलाने की मांग पर अड़ा रहा और पेड़ पर किसी के भी चढ़ने पर भी कूदने की धमकी देता रहा।

11:30 बजे के लगभग एडीएम सिटी वीरेंद्र पांडेय और एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह मौके पर पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने समझाना शुरू किया तो रामसेवक नीचे उतरा और फिर अपने बैरक में चला गया। तकरीबन 12:30 बजे के लगभग जेल परिसर के भीतर का माहौल पूरी तरह से सामान्य हुआ।