BREAKING NEWS
Search
चेकिंग

कुशीनगर दुर्घटना नें वाराणसी प्रशासन को जगाया, पूरे जनपद में स्कूल बसों और वाहनों की चेकिग

557

आज के चेकिंग अभियान में मुख्य रुप से स्कूल बसों का फिटनेस सर्टिफिकेट, ईयरफोन, हेलमेट, ओवरलोडिंग पर ध्यान केंद्रित किया गया…

–दयानंद तिवारी

वाराणसी: कुशीनगर दुर्घटना का सबसे बड़ा विलेन मोबाईल ईयरफोन के सामने आते ही वाराणसी पुलिस को डीएम व एसएसपी की ओर से ऐसे हर वाहन चालक के विरुद्ध कार्यावाही करने का आदेश प्राप्त हो गया जो बिना हेलमेट और ईयरफोन का इस्तमाल करते पाये जायें।

जिलाधिकारी योगेश्‍वर राम मिश्रा की ओर से गुरुवार को जारी हुए आदेश के बाद आज शुक्रवार से बनारस की सड़कों पर बड़े अभियान का आगाज़ हो गया है।

सुबह 6 बजे से शुरु चेकिंग में वाराणसी के डिस्‍ट्रक्‍ट मजिस्‍ट्रेट योगेश्‍वर राम मिश्र ने वाराणसी जनपद के ग्रामीण एवं शहरी दोनों क्षेत्रों में सुबह 6 बजे से वाहनों की जबरदस्‍त जांच शुरू करने का आदेश दे दिया है। डीएम ने इसके लिये वाराणसी पुलिस के अफसरों के साथ-साथ सभी थानों को विशेष जिम्‍मेदारी सौंपी है।

जिलाधिकारी की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि बगैर हेलमेट लगाये, कानो में इयर फोन लगाकर वाहन चलाते एवं तीन सवारी अथवा ओवरलोडिंग करने वाले वाहनों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई शुरू की जाए। जांच के दौरान गाड़ियों के फिटनेस प्रमाणपत्र तथा ड्राइविंग लाइसेंस आदि की भी गहनता से जांच की गयी, यही नहीं इस पूरे अभियान की मॉनीटरिंग जिलाधिकारी खुद किया।

आज की चेकिग का नतीजा यह निकला कि फिटनेस सर्टिफिकेट न पाये जाने पर आठ स्कूल बसों को सीज़ कर दिया गया इसके अलावा कुल 8500- जुर्माने के तौर पर वाहन चालकों से वसूले गये।