वाराणसी डकैती: अब तक 31 हिरासत में, 47 से पूछताछ और ताबड़तोड छापेमारी जारी

65

शबाब खान, वाराणसी। चौक थाने से चंद कदम की दूरी पर ठठेरी बाजार मोड़ स्थित संजय अग्रवाल की सराफा दूकान से दिनबदहाड़े साढ़े नौ करोड़ से अधिक के जेवरात लूटने वाले दो डकैतों के स्केच जारी कर दिए गए हैं। साथ ही, ठठेरी बाजार और आसपास की 43 दूकानों से जुटाए गए सीसीटीवी फुटेज के आधार पर क्राइम ब्रांच और एसटीएफ की 16 टीमों ने जिले और आसपास से 31 संदिग्धों को हिरासत में लिया है। 47 अन्य संदिग्धों से भी पूछताछ की गई है।

फुटेज के जरिए पता चला है कि वारदात में दस बदमाश शामिल थे। हालांकि पिछले 48 घंटे से वाराणसी, गाजीपुर, चंदौली, जौनपुर, आजमगढ़ और मऊ के अलावा पश्चिमी यूपी और बिहार के संभावित ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी के बाद भी बदमाशों के बारे में कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लग पाया है।

सोमवार को क्राइम ब्रांच और एसटीएफ की टीमों ने शहर के दालमंडी और चौक क्षेत्र में कुछ ठिकानों पर दबिश दी। इन दोनों इलाकों के बदमाश और उनके गुर्गे तफ्तीश में लगी टीमों के टॉरगेट पर हैं। सोमवार को ठठेरी बाजार, गोविंदपुरा, नारियल बाजार, छत्तातले, राजादरवाजा सहित आसपास के अन्य इलाकों की करीब 43 दूकानों के सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। इसके जरिए कुछ नए तथ्य सामने आए हैं।

पता चला है कि दूकान में घुसे छह डकैतों को कवर करने के लिए बाहर गली में चार बदमाश मौजूद थे। जेवरात लूटने के बाद सभी बदमाश पैदल ही भागे थे। इनमें दो बदमाशों के स्केच जारी कर दिए गए हैं। बाकी आठ के स्केच भी तैयार कराए जा रहे हैं। स्केच और फुटेज के आधार पर सोमवार की देर रात तक क्राइम ब्रांच 19 और एसटीएफ ने 12 संदिग्धों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। गाजीपुर, मऊ और आजमगढ़ जिला कारागार में निरुद्ध लूट और डकैती के आरोपियों से भी पूछताछ की गई। एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज और सूचनाओें के आधार पर पुलिस बदमाशों तक पहुंचने की कोशिश में है।