BREAKING NEWS
Search
Viral Hunt

मुसलमानों को गउमूत्र मिलाकर डोसा-सांभर खिलाने का मैसेज हुआ वॉयरल, हमने की पड़ताल

480
Share this news...

Shabab Khan

शबाब ख़ान

वाराणसी: बनारस शहर के मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में से एक है कोयला बाजार, हालांकि आदमपुर थाना क्षेत्र में आने वाले इस इलाके में हिंदु परिवार भी रहते है लेकिन 95 फीसदी मुस्लिम ही यहॉं की चाय-पान की दुकानें को गुलजार किये रहते हैं।

कोयला बाजार के बीचो-बीच एक प्रसिद्ध दक्षिण भारतीय भोजन का रेस्टोरेंट है जिसे 27 वर्षीय शिवम चलाते है जोकि हिंदु धर्म से ताल्लुक रखते हैं।

आबादी के हिसाब से इस रेस्टोरेंट के ज्यादातर ग्राहक मुस्लिम ही हैं जो रोज शिवम के रेस्टोरेंट में बैठकर इडली-सांभर का स्वाद लेते नजर आते है, और यह क्रम कुछ महीनें या दो-चार साल से नही बल्कि बीस वर्षों से चल रहा है यानि बीस वर्ष पुरानी दुकान को एकाएक ऐसे कटघरे में लाकर खड़ा दिया गया जो नफरत पैदा करने वाला है। ऐसा आरोप लगाया कि हिंदु-मुस्लिम में टकराव हो जाए।

होली के बाद से सोशल मीडिया पर, विशेष कर व्हाट्सऐप पर यह वॉयरल कर दिया गया कि रेस्टोरेंट संचालक शिवम खाने में गउमूत्र मिलाता है। देखें क्या है वॉयरल मैसेज:

 

Viral Message

Viral Message

यह मैसेज जिस किसी के पास गया, खासकर मुस्लिम समुदाय के लोग आग बबूला हो गये, लोगो नें रेस्टोरेंट संचालक से जाकर पूछा तो उसके पैरो तले जमीन खिसक गई, वह लोगो को सफाई देता रहा लेकिन होली के बाद से शिवम का रेस्टोरेंट मुस्लिम समुदाय के लिए अछूत हो गया। वॉयरल मैसेज की कॉपी जब हम तक पहुँची तो हम सीधे रेस्टोरेंट में गये। पहले बिना कुछ बतायें या पूछे उसके रेस्टोरेंट के किचन की गहनता से पड़ताल की, लेकिन हमें ऐसा कुछ नही मिला जिससे वॉयरल मैसेज को जरा भी विश्वास योग्य समझा जायें।

इस विषय पर हमने शिवम से बात किया तो असल माजरा सामने आ गया। देखें, क्या कहा रेस्टोरेंट संचालक शिवम नें।


https://www.youtube.com/watch?v=vwFQlt0fpfY


देखा आपने? होली वाले दिन ओमकालेश्वर मोहल्ले के कुछ लड़कों से तकरार हुई थी जिसका बदला लेने के लिए सोशल मीडिया को इस्तमाल किया गया। मजे की बात यह है कि मैसेज के अंत में कहा गया है कि पुलिस नें रेस्टोरेंट पर रेड मारकर संचालक को खाने में गउमूत्र मिलाते रंगेहाथ पकड़ा था, जिसके बाद खुद पुलिस नें लोगो से अपील किया कि यह बात सोशल मीडिया पर डाल दो कि संचालक खाने में गउमूत्र मिलाता है। जब हमने मच्छोदरी चौकी इंचार्ज राजेश यादव से इस बारे में बात की तो उन्होने ऐसी किसी भी घटना से अभिज्ञनता जताई।

दुकान पर मौजूद कुछ मुस्लिम हिंदु ग्राहकों से जब हमने बात किया तो उन्होने भी पूरे विश्वास के साथ कहा कि ऐसा आरोप सरासर गलत है। देखिए क्या कहते हैं कस्टमर्स।

https://www.youtube.com/watch?v=uow4P6C5pag

शिवम का कहना है कि इस मैसेज के कारण उसका बहुत नुकसान हुआ है और वह इसकी शिकायत वाराणसी पुलिस अधिक्षक से करेगा ताकि शरारती तत्वों को उचित सजा मिल सके।

[email protected]

Share this news...