BREAKING NEWS
Search
Kamala Harris running mate of us

कौन हैं कमला हैरिस? जिन्हें बिडेन ने राष्ट्रपति चुनाव में बनाया रनिंग मेट

330

New Delhi: भारतीय मूल की कमला हैरिस जो बिडेन की रनिंग मेट (जो कि उप राष्ट्रपति का पद माना जाता है ) उम्मीदवार बनी हैं. भारत के लिए ये गर्व करने वाली बाद है. इस पद पर चुनाव लड़ने वाली कमला हैरिस पहली एशियाई-अमेरिकी हैं.

बता दें कि कमला हैरिस के पिता, डोनाल्ड हैरिस, जमैका से थे और उनकी मां श्यामला गोपालन, एक कैंसर शोधकर्ता और नागरिक अधिकार कार्यकर्ता चेन्नई से थीं. उनकी मां का निधन 2009 में हो गया. उनके पिता अभी भी स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाते हैं. अगर वो चुनाव जीत जाती हैं तो कमला हैरिस संयुक्त राज्य की उपराष्ट्रपति बनने वाली पहली महिला और देश की पहली भारतीय-अमेरिकी और अफ्रीकी होंगी.

कमला हैरिस कैलिफोर्निया का प्रतिनिधित्व करने वाली 55 वर्षीय सीनेटर हैं. पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा वकील-राजनेता को एक बार देशद्रोही के रूप में वर्णित किया गया था. कमला हैरिस ने जनवरी 2019 में अमेरिकी चुनावों के लिए अपना राष्ट्रपति अभियान शुरू किया था. इस साल की शुरुआत में, कमला हैरिस ने राष्ट्रपति पद के लिए जो बिडेन का समर्थन किया. लेकिन प्राइमरी और प्री-प्राइमरी सीज़न के दौरान बिडेन के साथ अच्छे संबंध नहीं थे. अब पिछले कुछ महीनों में एक बार फिर सहयोगी बनकर सामने आई हैं.

अपने माता-पिता के तलाक के बाद, कमला हैरिस का लालन-पालन उनकी भारतीय मां ने किया. इसलिए कमला हैरिस ने भारतीय संस्कृति को अपनाया, लेकिन एक अफ्रीकी-अमेरिकी जीवन को गर्व के साथ व्यतीत किया. वह अक्सर अपनी मां के साथ भारत की यात्रा पर भी आई हैं.

कमला हैरिस ऑकलैंड में पली-बढ़ी हैं. इसके बाद हावर्ड यूनिवर्सिटी से स्नातक की डिग्री ली, फिर कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी से कानून की पढ़ाई की. कमला हैरिस सैन फ्रांसिस्को में जिला अटॉर्नी के रूप में भी काम कर चुकी हैं. वह 2003 में सैन फ्रांसिस्को की जिला वकील बनी थीं.

हैरिस ने साल 2017 में कैलिफोर्निया से संयुक्त राज्य सीनेटर के रूप में शपथ ली थी. ऐसा करने वाली वो दूसरी अश्वेत महिला थीं. उन्होंने होमलैंड सिक्योरिटी एंड गवर्नमेंट अफेयर्स कमेटी, इंटेलिजेंस पर सेलेक्ट कमेटी, ज्यूडिशियरी कमेटी और बजट कमेटी में भी काम किया. हालांकि, पिछले साल तक कमला हैरिस राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की रेस में थीं, मगर समर्थन नहीं मिल पाने की वजह से इस रेस से बाहर हो गईं.

जो बिडेन ने अपने ट्वीट के जरिये बताया कि ये बताते हुए मुझे गर्व हो रहा है कि कमला हैरिस को मैंने अपना उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुना है. बिडेन ने कमला को एक बहादुर योद्धा और अमेरिका के सबसे बेहतरीन नौकरशाहों में से एक बताया.