BREAKING NEWS
Search
pak pm imran khan

भारत के जांबाज पायलट अभिनंदन को कल रिहा करेगा पाकिस्तान

360

इस्लामाबाद। सीमा पर जारी भारी गोलीबारी और भारतीय सेना के संभावित ऐक्शन से घबराए पाकिस्तान ने विंग कमांडर को छोड़ने की घोषणा कर दी है। पाक संसद के साझा सत्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि अमन का संदेश देते हुए हम भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन को कल रिहा कर देंगे।

आपको बता दें कि एक दिन पहले पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों ने भारतीय क्षेत्र में हमले की कोशिश की थी, जिसे भारतीय जेट ने नाकाम कर दिया था। इस कार्रवाई में पाकिस्तान का एक F 16 जेट मार गिराया गया और इसी दौरान भारत का एक मिग 21 भी गिर गया और विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान ने अपनी हिरासत में ले लिया।

इसके बाद से ही हालात तेजी से बिगड़ रहे थे। पाकिस्तान को डर था कि भारत अभिनंदन को छुड़ाने के लिए कोई बड़ा ऐक्शन ले सकता है। पीएम इमरान खान के संबोधन में भी यह घबराहट दिखी। उन्होंने कहा कि हमने भारत को कल पैगाम पहुंचाया। हमने कल पीएम मोदी से बात करने की भी कोशिश की थी।

दुनिया के कई देशों से बात कर तनाव को कम करने की कोशिश की गई। इमरान ने खुद कहा कि कल रात पाकिस्तान को यह आशंका थी कि कोई मिसाइल हमला हो सकता है। पाक संसद में बोलते हुए इमरान खान ने अपनी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि करतारपुर कॉरिडोर को तनाव कम करने के लिए खोलने का फैसला किया गया।

पुलवामा हमले से पल्ला झाड़ते हुए इमरान ने कहा कि सऊदी के क्राउन प्रिंस उस समय पाकिस्तान में आए थे, ऐसे समय में कौन सा मुल्क पुलवामा जैसी दहशतगर्दी करवाएगा? इससे पाकिस्तान को क्या मिलता? उन्होंने कहा कि भारत का पुलवामा पर दस्तावेज आज पाकिस्तान पहुंचा है। इससे दो दिन पहले ही भारत ने ऐक्शन ले लिया।

हालांकि इस दौरान इमरान खान ने पाकिस्तान की ताकत का भी जिक्र किया। उन्होंने एक बार फिर दावा किया कि पाकिस्तान ने कल भारत के 2 जेट को गिराया था। आपको बता दें कि कुछ घंटे बाद ही विदेश मंत्रालय ने साफ कहा था कि भारत का एक मिग 21 गिरा है और केवल एक पायलट लापता हैं।

इस्लामिक आतंकवाद की चर्चा करते हुए पाक पीएम ने कहा कि 9/11 से पहले सबसे ज्यादा खुदकुश हमले लिट्टे करता था, जिसमें हिंदू शामिल थे। उन्होंने कहा कि भारत अब भी कोई ऐक्शन लेता है तो हमें जवाबी कार्रवाई करनी होगी। इमरान ने कहा कि हम तनाव कम करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन इसे पाकिस्तान की कमजोरी न समझा जाए।

उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से भी तनाव कम करने की अपील की। अपने संबोधन में इमरान खान ने कहा, ‘बहादुर शाह जफर और टीपू सुल्तान दो बड़े नवाब हुए थे। जफर ने गुलामी और आजादी में से गुलामी को चुना था। हालांकि टीपू सुल्तान ने आजादी को चुना था और मैं कहना चाहता हूं कि इस मुल्क का हीरो टीपू सुल्तान है।